पेट दर्द और बवासीर जैसी बीमारियों के लिए रामबाण है अंजीर

Anjir

ताजे अंजीर, सूखे अंजीर की तुलना में कम कैलोरी और शुगर होते हैं। जो डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद और सुरक्षित होते हैं। वहीं दूसरी तरफ, सूखे अंजीर में कैल्शियम की मात्रा अधिक पाई जाती है। एक सूखे अंजीर में 13 मिलीग्राम कैल्शियम मौजूद होता है। इसके अलावा अंजीर में विटामिन ए, बी और मिनरल्स (फास्फोरस, लौह, पोटेशियम) का बहुत अच्छा स्त्रोत है। एक अन्य कारक जो पोषण विशेषज्ञों के बीच अंजीर को पसंदीदा बनाता है, वह है इसकी उच्च फाइबर सामग्री। फाइबर से समृद्ध खाद्य पदार्थ रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं, और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बनाए रखते हैं। 


 कब्ज को कैसे करें कंट्रोल 

कब्ज को ऐसी स्थिति के रूप में परिभाषित किया जाता है जब किसी व्यक्ति आंतों को खाली करने या साफ़ करने में कठिनाई होती है, अगर इसे सीधे तौर पर कहें तो टॉयलेट करने में परेशानी होना कब्ज होने के संकेत हैं। एक अध्ययन के मुताबिक, लगभग 22 प्रतिशत भारतीय कब्ज से परेशान रहते हैं। यह एक बड़ी स्वास्थ्य समस्या होने के बावजूद इसकी चर्चा न के बराबर होती है। अगर इसका इलाज नहीं किया जाता है तब पुरानी कब्ज से गुदा फिशर, खुजली, दर्द और यहां तक कि रक्तस्राव भी हो सकता है। दूसरी तरफ हल्के कब्ज को कुछ हद तक घरेलू उपचारों से सही किया जा सकता है। रात में पानी में भिगोकर 2-3 सूखे अंजीर को सुबह खाने से कब्ज में लाभ मिलता है। 

अंजीर फाइबर का एक असाधारण स्रोत हैं। एक स्वस्थ पाचन तंत्र को बनाए रखने के लिए फाइबर समृद्ध खाद्य पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण है, जो बदले में कब्ज की संभावनाओं को कम करने में प्रभावी साबित हो सकता है। फाइबर शरीर के मल को एक जगह इकठ्ठा करता है, इसे नरम करता है और कब्ज से छुटकारा पाने में मदद करता है। अंजीर आपके आहार में सबसे अच्छे प्राकृतिक लक्सेटिव्स में से एक है जिसे आप अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। सूखे और पके हुए अंजीर दोनों घुलनशील फाइबर का असाधारण स्रोत हैं, जो कब्ज के साथ इर्रेबल बाउल सिंड्रोम जैसे अन्य पाचन संबंधी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं। 

भीगे अंजीर कब्ज में हैं मददगार 

विशेषज्ञों की मानें तो, सूखे अंजीर को खाने में कोई नुकसान नहीं है। अंजीर फाइबर का एक पावरहाउस होता है। आमतौर पर फाइबर दो प्रकार के होते हैं। घुलनशील फाइबर और अघुलनशील फाइबर। जब आप पानी में अंजीर डालते हैं, तो घुलनशील फाइबर टूट जाता है और इसे पचाना आसान हो जाता है। 

ऐसे करें अंजीर का सेवन 

2-3 सूखे अंजीर को पानी में भिगो दें और उन्हें रात भर छोड़ दें। सुबह में उनका उपभोग करें। अगर आप बेहतर रिजल्ट चाहते हैं तो इसके लिए हर सुबह एक महीने के लिए रोजाना इसे खाएं। दीर्घकालिक कब्ज प्रबंधन के लिए, यह जरूरी है कि हम पर्याप्त फाइबर समृद्ध खाद्य पदार्थों जैसे कि होलग्रेन अनाज, सब्जियां, फल और सलाद के साथ स्वस्थ आहार का उपभोग करें। अल्कोहल, तले-भुने भोजन, फास्टफूड आदि आहारों से परहेज करें। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget