कंटेनमेंट जोन के खुलने लगे ताले

43 हजार इमारतें हुईं अनलॉक


मुंबई

वैश्विक महामारी कोरोना पर लगती लगाम से प्रतिदिन स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है, इसके चलते मृत्यु दर में भी गिरावट दर्ज की जा रही है। साथ ही नए मरीजों के संक्रमण में भी उल्लेखनीय कमी आई है। मुंबई सहित पूरे प्रदेश में कोरोना का प्रसार कम होने से मुंबई में कंटेनमेंट जोन की हजारों बंद भवनों को अनलॉक कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार पर लगाम कसने के लिए मुंबई की 51 हजार 40 इमारतों को सील कर उन्हें कंटेनमेंट जोन में परिवर्तित कर दिया गया था, लेकिन शासन-प्रशासन द्वारा किए गए उपाय कारगर साबित हुए, जिसके चलते प्रशासन ने इस सप्ताह कंटेनमेंट जोन की 43 हजार 583 इमारतों को तालाबंदी से मुक्त कर दिया है। वर्तमान में केवल 7,457 इमारतों को ही कंटेनमेंट जोन के तहत बंद रखा गया है।

शनिवार को मुंबई में स्वस्थ होने वाले मरीजों का आंकड़ा 88 प्रतिशत तक पहुंच गया है, जबकि नए कोरोना संक्रमित मरीजों के बढ़ने का दर 0.42 प्रतिशत तक कम हुआ है। मुंबई में शुक्रवार को कुल 1,145 नए मरीज मिले, लेकिन शनिवार को यह संख्या घटकर 993 रह गई। शुक्रवार और शनिवार को मिलाकर मरने वालों की संख्या 32 रही, जबकि राज्य में पिछले कुछ महीनों में शुक्रवार को सबसे कम 74 मौतों का आंकड़ा सामने आया है। प्रदेश में शुक्रवार को नए मरीजों की संख्या 6,190 रही। शनिवार को यह घटकर 5,548 पहुंच गई।

शासन-प्रशासन की रणनीति

कोरोना काल के दौरान पीड़ितों के संपर्क में आए 37 लाख 7 हजार 58 संदिग्धों का पता लगाकर उन्हें अलग (कोरेंटाइन) रखा गया। इसमें से 15 लाख 88 हजार 511 मरीज गंभीर संक्रमित ग्रुप में थे, जबकि 21 लाख 18 हजार 547 मरीज कम जोखिम वाले ग्रुप में थे।अब तक 32 लाख 40 हजार 8 लोग पृथकवास की अवधि पूरी कर चुके हैं। जबकि अब तक चार लाख 66 हजार 255 मरीजों को घरेलू पृथकवास (होम कोरेंटाइन) में रखा गया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget