सीडीओ ने बैंक प्रतिनिधियों की लगाई क्लास

 चंदौली 

शासन के लाख हिदायत के बावजूद बैंकों की लापरवाही के चलते सरकार की महात्वाकांक्षी योजनाओं का लाभ शत-प्रतिशत पात्रों को नहीं मिल पा रहा है। उद्यमियों के चालू खाता खोलने में आनाकानी के साथ ही बीमा व पेंशन योजनाओं की रफ्तार भी काफी सुस्त है। सीडीओ डॉ. एके श्रीवास्तव ने शनिवार को विकास भवन में समीक्षा बैठक के दौरान बैंक प्रतिनिधियों की जमकर क्लास लगाई। वहीं खराब प्रगति पर सिडिकेट बैंक, इंडियन ओवरसिज बैंक समेत अन्य बैंकों के प्रतिनिधियों से स्पष्टीकरण मांगने का निर्देश दिया। उनके सख्त तेवर से बैंकर्स सकते में नजर आए। जिले में 25 लाख 34 हजार 115 चालू खाता खोलने का लक्ष्य निर्धारित है। इसके सापेक्ष अभी तक 20 लाख तीन हजार 592 खाता ही खोला गया। इसी तरह प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के लिए 1.90 लाख के लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 26 फीसद प्रगति है। अभी तक 50 हजार 605 लोगों को योजना का लाभ मिला। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की प्रगति भी संतोषजनक नहीं है। 5.91 लाख के लक्ष्य के सापेक्ष दो लाख 16 हजार 164 लोगों को ही लाभ मिला। अटल पेंशन के लिए जनपद में 56 हजार 364 का लक्ष्य निर्धारित है। इसमें 36 हजार 476 लोग ही योजना से लाभान्वित हुए। इसी तरह अन्य योजनाओं की प्रगति भी ठीक नहीं है। इसमें सिडिकेट व इंडियन ओवरसिज बैंक की स्थिति सबसे खराब है। इस पर सीडीओ ने गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने अग्रणी जिला प्रबंधक को खराब प्रगति वाले बैंकों को चिह्नित कर स्पष्टीकरण मांगने का निर्देश दिया। कहा, सरकार गरीबों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए तमाम तरह की बीमा व पेंशन योजनाएं संचालित कर रही है। योजनाओं की सफलता बैंकों पर निर्भर है। ऐसे में ईमानदारी के साथ दायित्वों का निर्वहन करें। समय-समय पर शिविर लगाकर योजना के तहत लोगों के खाते खुलवाए जाएं। वहीं योजनाओं के प्रति जागरुक भी किया जाना चाहिए। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget