अनाज कालाबाजारी को लेकर छापेमारी

पूर्णिया

सरकारी अनाज की कालाबाजारी के खिलाफ प्रशासन हरकत में आया और ताबड़तोड़ कई ठिकानों पर छापेमारी की। प्रशासन की इस छापामारी की भनक लगते ही सरकारी अनाज के कारोबारी अपने गोदामों का शटर गिराकर भाग खड़े हुए। प्रशासन की इस कार्रवाई से अवैध धंधेबाजों के बीच हड़कंप मचा हुआ है। एसएडीएम रणजीत कुमार के नेतृत्व में हुई इस छापेमारी में सहायक जिला आपूर्ति भी शामिल थे।

बताया जाता है कि इस छापेमारी में भले ही प्रशासन को कुछ हाथ नहीं लगा लेकिन सीना तान सरकारी अनाज की कालाबाजारी करने वालों के बीच दहशत कायम हो गया। प्रशासन की इस कार्रवाई से जागरण की खबर पर मुहर लग गयी की यहां सरकारी अनाज की कालाबाजारी कई ठिकानों से संचालित हो रही है। बताया जाता है की छापेमारी के लिए प्रशासन की टीम शिवानी धर्मकांटा के पास पहुंची जहां सरकारी अनाज के कोराबारी बंटी द्वारा अवैध कार्य संचालित किया जा रहा था। बताया जाता है की यह पहले किसी कारोबारी के यहां रहकर मुंशी का कार्य करता था लेकिन बाद में उसने खुद का अपना व्यवसाय शुरू कर दिया। कारोबार में पहले से ही सक्रिय उसके जीजा ने भी काफी मदद की और देखते ही देखते वह सरकारी अनाज का बड़ा धंधेबाज बन गया। जांच टीम जब यहां पहुंची तो पहले से ही गोदाम में ताला लटक रहा था।

इसके बाद पास के राइस मिल में भी जांच दल ने तलाशी ली लेकिन वहां सरकारी कुछ खाली बोरे मिले। इसके बाद जांच टीम ने पोखिरया मध्य विधालय के सामने स्थित मनोज गुप्ता के गोदाम भी पहुंची लेकिन वहां भी ताला बंद मिला। इसके बाद पोखिरया रोड में पेट्रोल पंप के आगे धर्मकांटा के पास विद्या नामक कारोबारी के गोदाम की भी जांच की गयी लेकिन वहां भी मुख्य द्वार पर ताला लटका हुआ था। छापेमारी दस्ते को देख सभी सरकारी अनाज के अवैध कारोबारी गोदाम में ताला मार भाग खड़े हुए। एएसडीएम ने भी माना की लगता है कि सरकारी अनाज के अवैध धंधेबाजों को किसी तरह छापेमारी की भनक लग गयी और वे भाग खड़े हुए। मगर उन्होंने दुहराया की इन अवैध कारोबारियों के खिलाफ लगातार छापेमारी अभियान जारी रहेगा। सरकारी अनाज की कालाबाजारी किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इसके लिए विशेष दल का गठन किया जाएगा और इसमें जिसकी भी संलिप्तता सामने आएगी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget