एयरपोर्ट पर असलहों के साथ पकड़े गए दो नेशनल शूटर

लखनऊ

लखनऊ एयरपोर्ट पर पुणे के नेशनल शूटर करोड़ों रुपए के असलहों के साथ रोके गए। दोनों खिलाड़ी इन असलहों के बारे में रायफल क्लब का प्रमाणपत्र नहीं दिखा पाए। ऐसे में इनके पास से बरामद 16 असलहों को कस्टम ने अपनी कस्टडी में ले लिया है। इन खिलाड़ियों को मोहलत दी गई है कि रायफल क्लब का प्रमाण पत्र दिखाएं। कस्टम के अनुरोध पर दिल्ली से रायफल क्लब की टीम भी मामले की जांच करने आ गई है। दोनों खिलाड़ियों ने टीम के सामने प्रस्तुत होने में यह कहते हुए असमर्थता जताई है कि उनको कोरोना के लक्षण है। दोनों ने टेस्ट कराया है। दुबई से 5 नवंबर को आई अन्तरराष्ट्रीय उड़ान से दो राष्ट्रीय स्तर के शूटिंग खिलाड़ी अपने साथ बड़ी संख्या में असलहे लेकर आए। कस्टम ने नियमित जांच में उनको इसलिए रोका, क्योंकि शस्त्र लेकर आना पूरी तरह से प्रतिबंधित है। ऐसे में इन खिलाड़ियों ने सभी शस्त्रों के खरीद के दस्तावेज प्रस्तुत किए। साथ ही राष्ट्रीय स्तर का शूटर होने का प्रमाणपत्र भी प्रस्तुत किया। सूत्रों के अनुसार बाहर से शस्त्र खरीद कर लाने वाले खिलाड़ी को रायफल क्लब का सहमति पत्र जरूरी होता है। इसमें लिखा होना चाहिए कि किस स्तर की प्रतियोगिता के लिए संबंधित बोर की गन वे ला सकते हैं। दोनों के पास ऐसा कोई प्रमाणपत्र नहीं मिला। ऐसे में उनको प्रमाण पत्र दिखाने के लिए समय दिया गया। कस्टम ने तुरंत एनएआरआई से सम्पर्क किया। राजधानी के रायफल क्लब के प्रतिनिधि आए तो असलहों को देख कर हैरान रह गए। उन्होंने कस्टम को दिल्ली स्थित क्लब के आला पदाधिकारियों से सम्पर्क करने को कहा। इसके बाद दिल्ली सम्पर्क किया गया।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget