पीएम मोदी का 'मिशन वैक्सीन'


मुंबई 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया का दौरा करने के बाद इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने दावा किया है कि अगले दो सप्ताह में कोवीशील्ड के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए आवेदन कर दिया जाएगा। पूनावाला का कहना है कि यह वैक्सीन (टीका) लगने के बाद लोगों को अस्पताल जाने की नौबत नहीं आएगी। 

अदार पूनावाला प्रधानमंत्री खुद भी वैक्सीन के बारे में काफी जानकारी रखते हैं। उन्होंने सीरम इंस्टीट्यूट में वैक्सीन उत्पादन की तैयारियों की पूरी जानकारी ली और वह हमारी तैयारियों से संतुष्ट दिखे। बता दें कि भारत में पांच वैक्सीन पर काम चल रहा है। इनमें पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया आक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी एवं दवा निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर कोवीशील्ड वैक्सीन के उत्पादन की तैयारी कर रहा है। जिसके ट्रायल का अंतिम चरण चल रहा है। 

कोवीशील्ड को पूरी तरह सुरक्षित करार दिया 

पूनावाला के अनुसार अभी यह तय नहीं है कि सरकार कितने डोज खरीदेगी। लेकिन उम्मीद है कि वह अगले वर्ष जुलाई तक 30 से 40 करोड़ खरीद सकती है। पूनावाला का दावा है कि यह वैक्सीन लेने के बाद किसी को अस्पताल जाने की नौबत नहीं आएगी। न ही वैक्सीन ले चुके व्यक्ति से किसी को संक्रमण का खतरा रहेगा। उन्होंने कोवीशील्ड को पूरी तरह सुरक्षित भी करार दिया है। उनके अनुसार कोवीशील्ड के वैश्विक ट्रायल में हास्पिटलाइजेशन जीरो फीसद रहा है और वायरस का असर 60 फीसद तक कम हो जाता है। पूनावाला ने इंटरनेट माध्यम से प्रेस से बात करते हुए कहा कि हम आत्मनिर्भर भारत को ध्यान में रखकर काम कर रहे हैं। हम सबको प्रयास करना चाहिए कि लोगों के बीच वैक्सीन को लेकर सही संदेश जाए। किसी तरह का भ्रम पैदा न हो। तैयार वैक्सीन रखने के सवाल पर अदार ने कहा कि भारत के पास इसे रखने के लिए पर्याप्त संसाधन मौजूद हैं। 

पीएम ने वैक्सीन पर लिए अपडेट 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के टीके के विकास कार्य की समीक्षा के लिए शनिवार को अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे का दौरा किया। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कहा कि दिन भर के दौरे का उद्देश्य नागरिकों के टीकाकरण में भारत के प्रयासों में आने वाली चुनौतियों, तैयारियों और रोडमैप जैसे पहलुओं की जानकारी हासिल करना था। मोदी ने अपने दौरे की शुरुआत अहमदाबाद के नजदीक दवा कंपनी जाइडस कैडिला के संयंत्र के दौरे के साथ की। उसके बाद वह हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक के संयंत्र पहुंचे और आखिर में पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया। 

मोदी शनिवार को अहमदाबाद के जायडस केडिला बायोटेक प्लांट पहुंचे थे। उन्होंने प्लांट का दौरा किया। यहां बनाई जा रही कोरोना वैक्सीन की प्रोग्रेस पर बात की। वे साइंटिस्ट्स और डॉक्टरों की टीम से भी मिले और उनके काम की तारीफ की। 

 पीएम का विजिट हौसला बढ़ाने वाला रहा। उन्हें वैक्सीन के बारे में पूरा नॉलेज था। वे यह भी जानते थे कि आने वाले समय में किन चीजों की जरूरत होगी। उनके पास इसका रोडमैप भी तैयार है। 

-शर्विल पटेल, सीईओ, जायडस 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget