ट्रक में छिपे चार आतंकियों को सेना ने भूना

धरती की 'जन्नत' में खूनखराबे की बड़ी साजिश नाकाम

encounter

श्रीनगर

सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में बड़ी कामयाबी हासिल की है। गुरुवार सुबह जम्मू के नगरोटा में चार आतंकियों को मार गिराया। चारों आतंकी गोला-बारूद और हथियार लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहे थे। घटना तड़के 4.50 बजे की है। सुरक्षाबलों ने नगरोटा स्थित बन टोल प्लाजा पर एक ट्रक को रोका और जांच शुरू की। इसी दौरान ड्राइवर ट्रक से छलांग लगाकर भाग खड़ा हुआ। इसके बाद जवानों ने और जांच-पड़ताल शुरू की तो ट्रक के भीतर से फायरिंग होने लगी। करीब दो घंटे के एनकाउंटर के बाद सुरक्षा बलों ने ट्रक को ही उड़ा दिया। ट्रक चावल की बोरियों से भरा था और उसके भीतर आतंकी बैठे थे। मुठभेड़ के बाद ट्रक से 4 आतंकियों के शव निकले। इसके साथ ही 11 एके-47 राइफल, 3 पिस्टल, 29 ग्रेनेड, 6 यूबीजीएल ग्रेनेड, मोबाइल फोन, कंपास, पिट्ठू बैग बरामद किए गए हैं।

बड़े हमले की फिराक में थे आतंकी

इस ऑपरेशन से इस घुसपैठ में कमी आने की उम्मीद है। आतंकी ट्रक में चावल के बोरों के बीच बैठे हुए थे, ताकि किसी को शक न हो।

आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के हो सकते हैं, लेकिन तफ्तीश के बाद ही इस बारे में साफ हो पाएगा। जिस तरह इनके पास से हथियार बरामद हुए हैं, उससे लगता है कि ये बड़े आतंकी थे।

सांबा सेक्टर से दाखिल हुए थे

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह के मुताबिक, जैश के चारों आतंकियों ने बुधवार रात सांबा में अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ की थी। वे जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर एक ट्रक में जा रहे थे, पुलिस ने नगरोटा के पास टोल प्लाजा पर उन्हें रोका। इसके बाद आतंकियों ने हमला कर दिया। इस साल जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर यह दूसरा एनकाउंटर है। सुरक्षाबलों ने जनवरी में 3 आतंकियों को मार गिराया था। वे भी इसी तरह एक ट्रक के अंदर छिपे हुए थे।

आईजी विजय कुमार ने बताया कि जम्मू पुलिस के पास जानकारी थी कि आतंकी कश्मीर घाटी जा रहे थे। इन्हें श्रीनगर पहुंचने से पहले ही मार गिराया गया। आतंकियों की जम्मू-कश्मीर में होने वाले निकाय चुनावों में बाधा डालने की साजिश थी।

पिछले कई दिनों से अनुमान लगाया जा रहा था कि बर्फबारी के पहले पाकिस्तानी सेना भारत में लगभग २५० आतंकियों को घुसपैठ कराना चाहती है। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने सेना के साथ मिलकर सीमा पर निगरानी तेज की थी। पाकिस्तानी सेना की तरफ से बार-बार फायरिंग के बीच घुसपैठ की कोशिश होती रही। परिणामत: भारतीय सेना ने १३ नवंबर को पीओके में आतंकियों के कई लांचिंग पैड को उड़ा दिया।


इस ऑपरेशन से घुसपैठ में कमी आने की उम्मीद है। आतंकी ट्रक में चावल के बोरों के बीच बैठे हुए थे, ताकि किसी को शक न हो।

दिलबाग सिंह, डीजीपी


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget