आघाड़ी सरकार ने एक साल में कुछ नहीं किया: फड़नवीस

संविधान की अवमानना हुई, सत्ता का दुरुपयोग किया गया


मुंबई

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मौजूदा महाविकास आघाड़ी सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा है कि सरकार के एक साल का लेखा-जोखा अदालत के दो निर्णयों से मापा जा सकता है। फड़नवीस ने कहा कि चाहे अर्नब गोस्वामी का मुद्दा हो या फिर अभिनेत्री कंगना रनौत का, इस पर स्पष्ट रूप से सरकार को अदालत ने फटकार लगाई है। ऐसी सरकार को तो डूब मरना चाहिए। ऐसे में आप क्या अदालत को भी महाराष्ट्र विरोधी करार देंगे। हम राष्ट्रपति शासन की मांग नहीं करते हैं, लेकिन इन दोनों मामलों में संविधान की अवमानना हुई है और सत्ता का दुरुपयोग किया गया है। वह जगजाहिर है। फड़नवीस ने आरोप लगाया कि ठाकरे सरकार ने बीते एक साल में कुछ भी हासिल नहीं किया है।

मराठा आरक्षण नहीं उठाए ठोस कदम

महाराष्ट्र सरकार ने मराठा समाज को आरक्षण देने के लिए भी कोई खास कदम नहीं उठाया है। राज्य में जब भाजपा की सरकार थी तो हमने मराठा आरक्षण देने की बात कही थी और ओबीसी आरक्षण को भी संरक्षित करने का काम किया था। मराठा आरक्षण से ओबीसी समाज के आरक्षण में कोई भी दिक्कत ना होने पाए इसका भी हमने विशेष ध्यान रखा था, लेकिन अब सरकार मराठा समाज और ओबीसी समाज में फूट डालने की कोशिश कर रही है।

शिवसेना ने छोड़ा हिंदुत्व

फड़नवीस ने कहा कि हमने हिंदुत्व बदला नहीं है, बल्कि शिवसेना ने हिंदुत्व छोड़ दिया है। शिवसेना वीर सावरकर का अपमान करने वाली कांग्रेस के शब्दों को कैसे भूल सकती है। शिवसेना महाराष्ट्र के गुपकर गैंग को समर्थन देने वाली कांग्रेस के साथ है। जो चीन की मदद से धारा 370 को हटाने का सपना देख रहे हैं।

जनता को बताएंगे सच्चाई

देवेंद्र फड़नवीस ने राज्य की ठाकरे सरकार पर यह आरोप भी लगाया है कि इन्होंने वोट तो नरेंद्र मोदी के नाम पर जनता से लिए, लेकिन हाथ किसी और से मिला लिया। इस सरकार ने सिर्फ पुरानी सरकार के निर्णय को स्थगित करने का काम किया है। जिसका सबसे बड़ा उदाहरण मेट्रो कारशेड का मामला है। हम इस मामले की पूरी सच्चाई जनता को बताएंगे। कुछ अधिकारी भी अपने फायदे के लिए मुख्यमंत्री को गलत जानकारियां मुहैया करवा रहे हैं।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget