उपमुख्यमंत्री पर उम्र घोटाले और कमीशनखोरी का लगा आरोप

पटना 

नीतीश कुमार सहित उनके मंत्रिमंडल के मंत्रियों का कच्चा चिट्ठा निकालने में राजद एड़ी-चोटी का जोर लगाये हुआ है। मेवालाल चौधरी के बाद अब उपमुख्यमंत्री तारिकशोर प्रसाद पर कई आरोप लगाये गये हैं। 

राजद ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर एक ताजा ट्वीट किया है। इसमें उपमुख्यमंत्री तारिकशोर प्रसाद पर उम्र घोटाला और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। राजद ने अपने ट्वीट में लिखा है- ' बिहार के उपमुख्यमंत्री अपनी उम्र में ही घोटाला एवं कमीशन के लिए ठेकेदारों को धमकाने और अपने सभी पारिवारिक सदस्यों को ठेकेदार बनाने में भी लिप्त हैं। पूरा कटिहार जानता है बिना कमीशन के ये क्षेत्र में कोई काम नहीं करते। अब इनके कारनामों से संपूर्ण बिहार परिचित होगा।' राजद ने अपने ऑफिशियल ट्विटर पर एक यूजर के ट्वीट को री-ट्वीट किया है, जिसमें तारकिशोर प्रसाद के चुनावी हलफनामे के मुताबिक बताया गया है कि बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद की उम्र 2005 में 48 साल थी। 5 साल बाद उनकी उम्र महज़ 1 साल बढ़ी और 49 साल हुई। फिर 5 साल बाद 2015 में उनकी आयु 3 साल बढ़कर 52 साल हुई और आखिरी के 5 साल, यानी 2020 तक उनकी उम्र 12 साल बढ़कर 64 साल हो गई। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget