राजस्थान और कोलकाता में कांटे की टक्कर आज


दुबई

इंडियन प्रीमियर लीग प्लेआफ की दौड़ 'अगर मगर' के फेर में फंसी होने के बीच राजस्थान रॉयल्स जीत की लय को कायम रखते हुए रविवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को हराकर अपनी उम्मीदें बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी। आखिरी लीग मैच जीतने के साथ 2008 की चैम्पियन रॉयल्स को दूसरे नतीजे भी अपने पक्ष में रहने की प्रार्थना करनी होगी। उसके लिये किंग्स इलेवन पंजाब का आखिरी मैच हारना और सनराइजर्स हैदराबाद का दो में से एक मैच हारना जरूरी होगा। इससे पहले उसे केकेआर को हराना होगा। जीत का अंतर जितना अधिक होगा, स्टीव स्मिथ की टीम उतने ही फायदे में रहेगी। रॉयल्स के स्टार हरफनमौला बेन स्टोक्स फार्म में लौट आये हैं जिन्होंने पंजाब के खिलाफ शुक्रवार को दो विकेट लेने के साथ अर्धशतक भी बनाया। संजू सैमसन भी शुरुआती मैचों वाले प्रवाह में दिख रहे हैं। कप्तान स्मिथ हालात के अनुरूप खेलने का फन जानते हैं और पिछले मैच में रॉबिन उथप्पा का अनुभव भी काम आया। विरोधी टीम जोस बटलर और राहुल तेवतिया को भी हलके में नहीं ले सकती। गेंदबाजी में जोफ्रा आर्चर ने अभी तक कमाल का प्रदर्शन किया है जिन्होंने पिछले मैच में क्रिस गेल को 99 के स्कोर पर बोल्ड किया था। दूसरी ओर केकेआर के लिये प्लेआफ की राह सबसे कठिन है चूंकि उसका रनरेट सभी टीमों से खराब है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget