डोनाल्ड ट्रंप के 'तख्तापलट' से सेना की दूरी

 जनरल बोले- 'किसी तानाशाह के प्रति नहीं है वफादारी' 

general mike milley

वॉशिंगटन 

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव हुए और डेमोक्रैट कैंडिडेट जो बाइडेन को बहुमत मिला। हालांकि, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव के नतीजे से इंकार कर दिया है और हालात ऐसे पैदा हो गए हैं कि ट्रंप के सैन्य तख्तापलट करने की आशंका तक जताई जाने लगी है। 

इसी बीच देश के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ चेयरमैन जनरल मार्क माइली ने दो टूक कहा है कि सेना किसी राजा-रानी या तानाशाह की नहीं, देश के संविधान की कसम खाती है। उन्होंने कहा कि सेना का हर सदस्य खुद से ज्यादा उसकी रक्षा करेगा। 

दरअसल, ट्रंप ने हाल ही में पेंटागन में ताबड़तोड़ बदलाव करते हुए रक्षामंत्री मार्क एस्पर को हटाया और फिर अपने तीन वफादारों को अहम पदों पर नियुक्त कर दिया। इसके बाद ही ऐसी अटकलें लगने लगीं कि ट्रंप अपने कार्यकाल के आखिरी दो हफ्तों में क्या कर सकते हैं। हालांकि, इसका कोई ठोस आधार नहीं है और माइली ने साफ किया है कि किसी भी हालत में ट्रंप को सेना की मदद नहीं मिलेगी। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget