मेवालाल चौधरी पर लटकी तलवार

भागलपुर

बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर के पूर्व कुलपति डॉ. मेवालाल चौधरी पर आरोप पत्र दाखिल करने की तैयारी चल रही है। सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति घोटाला में मेवालाल मुख्य आरोपी हैं। इनके अलावा विश्वविद्यालय के पदाधिकारी डॉ. एमके वाधवानी सहित कई अन्य भी चार्जशीट की जद में हैं। पुलिस प्रशासन ने इस संदर्भ में विश्वविद्यालय को मामले की अद्यतन जानकारी उपलब्ध करा दी है। मामले में अमित कुमार और राजभवन वर्मा पर पहले ही आरोप पत्र गठित हो गया है। गिरफ्तारी के बाद जेल भी भेजे गए थे।

दो दर्जन से ज्यादा लोगों के खिलाफ पुख्ता साक्ष्य

बीएयू मामले के पूर्व अनुसंधानकर्ता डीएसपी रमेश कुमार ने उस वक्त यह साफ कर दिया था कि मामले में दो दर्जन से ज्यादा आरोपितों के खिलाफ पुख्ता साक्ष्य मिले हैं। इसमें चयन कमेटी और स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य शामिल हैं। एसएसपी को रिपोर्ट सौंपने से पहले ही उनका ट्रांसफर हो गया, जिसके बाद मामला निगरानी विभाग में स्थानांतरित हो गया। तब से मामला ठंडे बस्ते में था। मेवालाल के शिक्षा मंत्री बनने पर विपक्ष हमलावर हुआ तब फिर से यह मामला उजागर हो गया।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget