कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए मनपा तैयार

आदित्य ठाकरे ने अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक


मुंबई

दिल्ली के बाद मुंबई में भी दूसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की जा रही है। ऐसे में मनपा द्वारा दूसरी लहर से निपटने के लिए क्या-क्या तैयारियां की गई हैं, इसको लेकर राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने मनपा अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। बुधवार को हुई बैठक में आदित्य ठाकरे ने मनपा प्रशासन से दूसरी लहर से निपटने के लिए क्या तैयारियों का जायजा लिया।

कोविड सेंटर में पर्याप्त बेड तैयार

अतिरिक्त मनपा आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए अस्पतालों और कोविड सेंटर में पर्याप्त बेड तैयार हैं। ऑक्सीजन वेंटिलेटर को तैयार रखा गया है। दवाइयों और इंजेक्शन का भरपूर मात्रा में स्टॉक उपलब्ध है। साथ ही बीएमसी के पास 70 हजार बेड की सुविधा है। उसमें से 20 हजार डीसीएचसी के लिए रिजर्व रखा गया है। यह बेड क्रिटिकल कंडिशन के मरीजों और कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए है।

मुंबई में अभी 58 कोविड सेंटर है

काकानी ने कहा कि मनपा ने एक गाइडलाइन बनाई है, जिसके तहत सीसीसी में हाईरिस्क के मरीजों और सीसीसी 2 में सौम्य लक्षण वाले मरीजों को रखा जाता है। इसके लिए 50 हजार बेड उपलब्ध हंै, जिसे तीन चरणों में शुरू करने की तैयारी है। मुंबई में अभी 58 कोविड सेंटर है, जिसमें सिर्फ 10 प्रतिशत बेड पर मरीजों का इलाज हो रहा है, बाकी 90 प्रतिशत खाली हैं। 35 कोविड सेंटर ऐसे हैं जो दो दिनों की नोटिस पर शुरू किए जा सकते हैं। वहीं 400 सेंटर ऐसे हैं जो 8 दिनों की नोटिस पर शुरू हो जाएंगे। सभी कोविड सेंटरों और अस्पतालों में पहले सिलेंडर द्वारा आक्सीजन की आपूर्ति की जाती थी। अब वहां टर्बो फैसिलिटी द्वारा ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। इससे ऑक्सीजन की आपूर्ति में कहीं कमी नहीं आएगी। सभी जंबो सेंटर में ओपीडी सेवा शुरू की गई है।

गाइडलाइन का पालन करते हुए छठ पूजा करें -अनिल देशमुख

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने लोगों से अपील की है कि सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए छठ पूजा करें। देशमुख ने कहा कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। समुद्र के किनारे, नदी के किनारे ,तालाबों के किनारे छठ पूजा सामूहिक रूप में न मनाएं । गृह मंत्री ने लोगों से अपील की है कि घरों में छठ पूजा मनाए, बाजारों में भीड़ कम करें साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहन कर घरों से बाहर निकले। गौरतलब है कि बीएमसी ने शहर के प्राकृतिक जलाशयों किनारे बड़े पैमाने पर छठ पूजा करने पर रोक लगाने संबंधी आदेश मंगलवार को जारी किया था । बीएमसी ने इसके साथ ही श्रद्धालुओं से भीड़भाड़ से बचने का आह्वान भी किया।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget