मुंबई में होगा शीतकालीन अधिवेशन

कोरोना संकट की वजह से नागपुर में सत्र नही

vidhan bhavan

मुंबई

राज्य में कोरोना के संकट को देखते हुए आगामी 7 दिसंबर से नागपुर में होने वाले महाराष्ट्र विधानमंडल के शीतकालीन सत्र को मुंबई में आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। मंगलवार को हुई कामकाज सलाहकार समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया।

मंगलवार को विधानभवन में दोनों सभागृह के विधिमंडल कामकाज सलाहकार समिति की बैठक आयोजित हुई। शीतकालीन सत्र नागपुर में आयोजित होता है, लेकिन इस साल विश्व, देश और राज्य में आए कोरोना संकट और राज्य की परिस्थिति को देखते हुए नागपुर के बजाय यह अधिवेशन मुंबई में लेने का निर्णय लिया गया। 7 दिसंबर से शुरू होने वाले अधिवेशन कब तक चलेगा, इस बारे में इस माह के अंत में एक बार फिर से कामकाज सलाहकार समिति की बैठक होगी, जिसमें निर्णय लिया जाएगा।

बैठक में शीतकालीन सत्र में लगने वाली सुविधाओं की समीक्षा की गई। कई विधानमंडल सदस्यों का कहना था कि नागपुर में शीतकालीन सत्र आयोजित करना ठीक नहीं होगा। बैठक में विधान परिषद के सभापति रामराजे निंबालकर, विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उपमुख्यमंत्री अजित पवार, विधान परिषद की उपसभापति डॉ. नीलम र्गोहे, विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहरी झिरवाल, विधानपरिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर, विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस (वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा) संसदीय कार्यमंत्री डॉ. अनिल परब, राजस्व मंत्री बाला साहेब थोरात, मंत्रिमंडल के सदस्य, विधानसभा और विधान परिषद के सदस्य, विधान मंडल के सचिव राजेंद्र भागवत और संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

संभाजी पाटिल निलंगेकर चुनाव प्रमुख

पाटिल ने कहा कि औरंगाबाद में होने वाले स्नातक विधान परिषद चुनाव के लिए पूर्व मंत्री संभाजी पाटिल निलंगेकर को चुनाव प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया है। इसके साथ प्रवीण घुगे और समीर दुधगांवकर को सहप्रमुख नियुक्त किया गया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget