पहले स्कूलों का दौरा करें शिक्षा मंत्री!

 महाराष्ट्र राज्य शिक्षक परिषद के मुंबई विभाग के कार्याध्यक्ष शिवनाथ दराडे की मांग

Shivnath Darade

मुंबई

राज्य सरकार ने शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति दे दी है। इससे स्कूल व कॉलेज खुलने पर शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारी बिना रोक-टोक के लोकल ट्रेन से सफर कर सकते हैं। शिक्षक संगठनों का कहना है कि स्कूलों में सावधानी बरतने के लिए सरकार ने जो दिशा निर्देश जारी किए हैं, उसको लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। शिक्षा मंत्री को 23 नवंबर से पहले सभी स्कूलों का जायजा लेना चाहिए और वहां बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता जांचने का प्रयास करना चाहिए।

महाराष्ट्र राज्य शिक्षक परिषद के मुंबई विभाग के कार्याध्यक्ष शिवनाथ दराडे ने कहा कि अब तक सरकार के जीआर के चलते शिक्षकों को निजी वाहनों से स्कूलों में जाना पड़ता था, लेकिन लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति मिलने के बाद शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को राहत मिली है। स्कूलों में थर्मल गन, ऑक्सीमीटर, साबुन, सैनिटाइजर समेत सुरक्षा के उपायों को लेकर दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। राज्य के सभी स्कूलों में तैयारियों का जायजा लेने के लिए स्कूली शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ को राज्यव्यापी दौरा करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सरकार ने शिक्षकों की ड्यूटी को लेकर जो जीआर जारी किया है, उसमें शिक्षकों को कोविड ड्यूटी से मुक्त करने का फरमान भी शामिल है, लेकिन अब तक कई शिक्षक कोविड ड्यूटी कर रहे हैं। सरकारी विभाग कोविड ड्यूटी में तैनात शिक्षकों को मुक्त नहीं कर सके हैं। ऐसे में सरकार को अंदाजा लगाना चाहिए कि उसके जीआर पर कितनी गंभीरता से अमल हो रहा है। स्कूली शिक्षा मंत्री और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को यह जांच करना चाहिए कि सरकार के जीआर के बाद शिक्षकों को कोविड ड्यूटी से मुक्त क्यों नहीं किया गया। स्कूली शिक्षा मंत्री को 23 नवंबर से पहले स्कूलों का जायजा लेने के लिए राज्यव्यापी दौरा करना चाहिए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget