रिपब्लिक टीवी का वरिष्ठ कार्यकारी गिरफ्तार

फर्जी टीआरपी मामला

ghanshyam singh

मुंबई

मुंबई पुलिस ने पैसे देकर फर्जी तरीके से टेलीविजन रेटिंग प्वाइंट (टीआरपी) हासिल करने के मामले में मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए रिपब्लिक टीवी के वितरण प्रमुख घनश्याम सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। यह कार्रवाई मुंबई पुलिस की अपराधा शाखा के अपराध आसूचना प्रकोष्ठ (सीआईयू) ने की है। इससे पहले सीआईयू की टीम ने कई दिनों से सिंह से गहन पूछताछ की थी और उसके बाद अब उन्हें मामले में दोषी मानते हुए गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तारी के बाद सिंह को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 13 नवंबर तक अपराध शाखा की हिरासत में भेज दिया गया है। इस मामले में अपराध शाखा अब तक कुल 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन रिपब्लिक टीवी से जुड़े किसी व्यक्ति की यह पहली गिरफ्तारी है। अपराध शाखा से जुड़े सूत्रों के मुताबिक इस मामले मे रिपब्लिक चैनल के प्रमुख अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी भी संभव है, क्योंकि मामले के तार उनसे जुड़ते नजर आ रहे हैं।

बार्क की शिकायत पर हुआ था मामले का खुलासा

बता दें कि टीआरपी घोटाले का खुलासा पिछले महीने हुआ था। ब्रॉडकास्ट ऑडिंयस रिसर्च काउंसिल (बार्क) ने बैरोमीटर्स लगाने और उनकी मरम्मत का काम करने वाली हंसा रिसर्च ग्रुप के जरिए शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया था कि कुछ चैनल टीआरपी के आंकड़ों में छेड़छाड़ कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने हंसा के पूर्व कर्मचारी को गिरफ्तार किया था। जिससे पूछताछ में पैसे लेकर टीआरपी के आंकड़ों में छेड़छाड़ करने वाले गिरोह का पता चला था।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget