चुनाव में नदी के रास्ते माहौल बिगाड़ सकते हैं उपद्रवी

 पटना

मुंगेर की घटना के बाद अब नदी वाले इलाकों में चौकसी बढ़ा दी गई है। असामाजक तत्व नदी मार्ग से आकर कोई बड़ी घटना कर माहौल बिगाड़ सकते हैं। पुलिस प्रशासन ने बिहार के ऐसे सभी क्षेत्रों में सुरक्षा को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है। चुनाव वाले स्थानों से सटी नदियों में रिवर पैट्रोलिंग का निर्देश दिया गया है। पटना में डीएम के निर्देश पर रिवर पैट्रोलिंग के लिए एनडीआरएफ की टीम को लगाया गया है। 

मुंगेर हिंसा के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा 

मंगुर हिंसा के बाद सुरक्षा को लेकर बड़ी तैयारी है। मुंगेर हिंसा से जो माहौल बिगड़ा है, उसका कोई रिएक्शन द्वितीय चरण के मतदान पर नहीं पड़े, इसके लिए काम किया जा रहा है। पूरे प्रदेश में 100 से अधिक टीमों को लगाया जा रहा है, जो रिवर पैट्रोलिंग के माध्यम से सुरक्षा का चक्रव्यूह तैयार करेंगी। 

पटना में 20 टीमें करेंगी नदी की निगरानी 

पटना में विधानसभा चुनाव के द्वितीय चरण को लेकर डीएम कुमार रवि ने आदेश दिया है कि रिवर पैट्रोलिंग पर पूरा जोर दिया जाए। इसके लिए 3 नवंबर को एनडीआरएफ की टीम को सघन रिवर पैट्रोलिंग के लिए लगाया जा रहा है। डीएम कुमार रवि के आदेश के बाद मनेर के रामपुर दियारा से लेकर अथमलगोला तक नदी में गश्ती तेज रखने का निर्देश दिया गया है। एनडीआरएफ की 20 टीम को इसके लिए तैनात किया जा रहा है। एक टीम में चार से पांच लोग शामिल रहेंगे। यह टीम रिवर पैट्रोलिंग करने के साथ असामाजिक तत्वों की आवाजाही पर पूरी तरह से नजर रखेगी। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget