शौचालयों में संचालित होंगे आंगनबाड़ी केंद

वाराणसी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में लाखों खर्च कर बनाए गए शौचालयों को अब आंगनबाड़ी केन्द्र में तब्दील किया जाएगा। शहर में 30 से अधिक सार्वजनिक और लगभग 20 सामुदायिक शौचालय हैं। इनमें आंगनबाड़ी के लिए उपयुक्त लगभग 10 शौचालयों की सूची नगर निगम ने तैयार की है। अपर नगर आयुक्त प्रथम डीडी वर्मा ने बताया कि सूची तैयार होने के बाद महिला व बाल विकास विभाग के साथ मिलकर आंगनबाड़ी केंद्र बनाए जाएंगे। नगर निगम की नजर में जिन शौचालयों का उपयोग सीमित है, उन्हें आंगनबाड़ी केन्द्र बनाया जाएगा। इससे किराये पर चल रहे आंगनबाड़ी केन्द्रों को भी जगह मिल जाएगी। ये शौचालय स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गये थे। एक शौचालय पर पांच से सात लाख रुपये का खर्च आया था। उनमें चौक थाने के पीछे बना पिंक टॉयलेट भी है जिसका लंबे समय से उपयोग नहीं हो रहा है। सूची बनाने के दौरान इन शौचालयों के निर्माण में गड़बड़ियां भी सामने आ रही हैं। वॉश बेसिन न होने के कारण पिंक टॉयलेट करीब ढाई साल से बंद है। भीड़ वाले इलाकों को छोड़कर कॉलोनियों, पार्कों के पास ऐसी जगहों पर शौचालय बना दिये गये जहां आम लोगों की आवाजाही बहुत कम है


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget