चंद्रकांत पाटिल ने साधा सरकार पर निशाना

सुबोध जायसवाल का केंद्र में जाने का निर्णय 

chandrakant patil

मुंबई 

राज्य के पुलिस महानिदेशक सुबोध जायसवाल ने केंद्र सरकार की सेवा में वापस जाने का निर्णय लिया है, जिसे लेकर राज्य में सत्तापक्ष और विपक्ष में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट के माध्यम से कहा कि राज्य के पुलिस महानिदेशक सुबोध जायसवाल जैसे सक्षम अधिकारी ने राज्य को छोड़कर जाने का निर्णय लिया है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। जायसवाल का इस तरह जाना सरकार के अड़ियल रवैये को दर्शाता है, यह राज्य के सुरक्षा के लिए घातक हो सकता है। आने वाले समय में राज्य की कानून-व्यवस्था भगवान के भरोसे ही चलेगी। 

पाटिल ने कहा कि पुलिस अधिकारियों के तबादले के मुद्दे पर महानिदेशक जायसवाल और राज्य सरकार के बीच मतभेद पैदा हुआ है। नक्सलवादी क्षेत्रों में की गई पुलिस अधिकारियों की नियुक्ति को लेकर जायसवाल की सरकार से पटरी नहीं बैठी, जिसके बाद उन्होंने खुद केंद्र सरकार की सेवा में वापस जाने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने भी केंद्र सरकार से सिफारिश की है। इनके जाने के बाद एक बार फिर इस पद को भरने के लिए राज्य में रस्साकशी शुरू हो जाएगी। सरकार पर आरोप लगाते हुए पाटिल ने कहा कि जानकारी के मुताबिक जायसवाल जैसे अनेक निष्ठावान वरिष्ठ पुलिस और सक्षम अधिकारी को तकलीफ पहुंचाने का काम सरकार कर रही है। बता दें कि राज्य के पुलिस महानिदेशक सुबोध जायसवाल केंद्र सरकार के अंतर्गत रॉ एजेंसी में कार्यरत थे, जिन्हे साल 2018 में मुंबई पुलिस का आयुक्त बनाया गया। इसके करीब एक साल बाद राज्य के पुलिस महानिदेशक का कार्यभार संभाल रहे हैं। केंद्र सरकार में वापस जाने के बाद उन्हें एनएसजी प्रमुख पद का कार्यभार मिल सकता है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget