महिला विकास योजनाओं के लिए सीएमओ में विशेष कक्ष

वर्षा बंगले पर महिला सशक्तिकरण को लेकर बैठक

Uddhav Thackeray

मुंबई

वर्षा बंगले पर महिला सशक्तिकरण को लेकर आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि महिलाओं के विकास में साथ देने एवं उन्हें मजबूती प्रदान करने की आवश्यकता है। महिला विकास की योजनाएं सिर्फ कागज पर ही न रहते हुए इन योजनाओं को प्रत्यक्ष रूप में साकार करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय में महिलाओं की समस्याओं के निराकरण के साथ-साथ उनके लिए जो योजनाएं हैं, उसे गति देना, वर्तमान की योजनाओं की समस्याओं को दूर करना, नए योजना तैयार करना इन सभी के लिए विशेष कक्ष रहेगा।

वर्षा शासकीय निवास स्थान पर हुई इस बैठक में मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर, सांसद संजय राऊत, सांसद अनिल देसाई, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह, प्रधान सचिव विकास खारगे, महिला आर्थिक विकास महामंडल (माविम) की अध्यक्ष ज्योति ठाकरे, जल जीवन मिशन की संचालक आर विमला आदि उपस्थित थे।

बचतगट नए अवसर तलाशे

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि महिलाओं को अब बचतगट और उनके पारंपारिक पापड़, मसालें आदि उत्पादनों के अलावा नए अवसर तलाशने चाहिए। महिलाओं के जीवनस्तर में बदलाव के लिए उद्योगशीलता में वृद्धि करते हुए आधुनिक मार्केट की मांग एवं उत्पादन निर्मिती के बीच कड़ी तैयारी करनी होगी। इसके लिए माविम, उमेद के (राष्ट्रीय ग्रामीण उपजीविका अभियान) उपक्रमों को व्यापक रुप देते हुए महिलाओं के प्रशिक्षण एवं क्षमता (बांधणी) के कार्यक्रम भी अधिक तेजी से चलाने होंगे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget