एक लाख करोड़ रुपए के निवेश का लक्ष्य: मुख्यमंत्री

Uddhav Thackeray

मुंबई

कोरोना काल के बाद सुधर रहे प्रदेश के हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपनी महत्वाकांक्षी परियोजना 'मैग्नेटिक महाराष्ट्र-2' की शुरुआत की। सह्याद्रि गेस्ट हाउस में आयोजित एक समारोह में मुख्यमंत्री की मौजूदगी में 34,850 करोड़ रुपए के निवेश समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। इसके जरिए 23 हजार 182 नौकरियां मिलने का लक्ष्य रखा गया है। एमआईडीसी और 15 कंपनियों के बीच यह समझौता किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ठाकरे ने 'मैग्नेटिक महाराष्ट्र 2.0' पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उद्योग विभाग द्वारा उठाए जा रहे महत्वाकांक्षी कदम सराहनीय हैं। मुझे प्रदेश के उद्योग विभाग पर गर्व है। उद्योग क्षेत्र में विश्वास महत्वपूर्ण होता है। निवेशकों और राज्य सरकार दोनों को एक दूसरे पर पूरा भरोसा है। उन्होंने कहा कि यह संतोष की बात है कि पिछले समझौते (एमओयू) में 60 प्रतिशत उद्योगों के लिए सभी प्रक्रियाएं पूरी हो चुकी हैं। आज लगभग 35,000 करोड़ रुपए के निवेश समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं। यह तो अभी सिर्फ शुरुआत है, आने वाले समय में राज्य में 1 लाख करोड़ रुपए से अधिक का निवेश करने का लक्ष्य है। सबसे महत्वपूर्ण बात है कि 35,000 करोड़ रुपए का निवेश आज किया जा रहा है। कोरोना संकट के बाद दुनिया के दरवाजे आपके लिए खुल रहे हैं। आज का समझौता 'अनेकता में एकता' की मिसाल है। विभिन्न क्षेत्रों के उद्योग राज्य में निवेश करने के इच्छुक हैं। मुझे विश्वास है कि महाराष्ट्र डेटा केंद्रों के मामले में देश का एक महत्वपूर्ण केंद्र बन जाएगा। उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, राज्य मंत्री अदिति तटकरे की उपस्थिति में एमआईडीसी और 15 कंपनियों के बीच महत्वपूर्ण समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। इन 15 कंपनियों के माध्यम से राज्य में लगभग 34,850 करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। इससे लगभग 23 हजार 182 लोगों को रोजगार भी मिलेगा।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget