विधायक सरनाईक के ठिकानों पर ईडी के छापे


मुंबई

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सुरक्षा मुहैया कराने वाली एक कंपनी तथा अन्य लोगों के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच के सिलसिले में मंगलवार को महाराष्ट्र में शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाईक के परिसरों पर छापे मारे। सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय एजेंसी मुंबई और ठाणे में 10 ठिकानों पर छापेमारी की। ईडी की कार्रवाई तड़के शुरू हुई और सीआरपीएफ के जवान एजेंसी के अधिकारियों की मदद करते देखे गए। आधिकारिक सूत्र ने कहा कि ये छापे टॉप्स ग्रुप (सुरक्षा मुहैया कराने वाली एक कंपनी) के प्रवर्तकों और संबंधित लोगों सहित नेताओं के यहां मारे जा रहे हैं। एजेंसी के अधिकारियों ने विधायक के पुत्र विहंग से भी पूछताछ की। सूत्रों ने बताया कि यह जांच कुछ संस्थाओं द्वारा विदेशी लेनदेन से संबंधित है। सरनाईक (56) महाराष्ट्र विधानसभा में ओवला-माजीवाड़ा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। विधायक उस समय सुर्खियों में आए थे, जब उन्होंने आत्महत्या के लिए कथित तौर पर उकसाने के 2018 के मामले को फिर से खोलने की मांग करते हुए एक पत्र लिखा था। उसी मामले में हाल में रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था। गोस्वामी फिलहाल जमानत पर बाहर हैं। 

विहंग सरनाइक से 5 घंटे पूछताछ

शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक के पुत्र विहंग को धनशोधन मामले में उनके पिता से संबंधित परिसरों पर छापेमारी के बाद पूछताछ के लिए मंगलवार को प्रतर्वन निदेशालय (ईडी) के कार्यालय लाया गया। विहंग से ईडी दफ्तर में 5 घंटे पूछताछ के बाद रात 8 बजे छोड़ा गया।

विपक्षियों के खिलाफ ईडी का प्रयोग: पवार

प्रताप सरनाईक के यहां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी पर शरद पवार ने कहा कि लोगों के सवालों के जवाब देने के स्थान पर सरकारी एजेंसियों का प्रयोग राजनीतिक विपक्षियों के खिलाफ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह ठीक नहीं है। हमारी सरकार ने महाराष्ट्र में एक साल पूरा किया है, इसलिए वे इस बात को समझते हैं कि वे यहां सत्ता में नहीं आ सकते हैं। इस वजह से वे उस शक्ति का प्रयोग कर रहे हैं, जो उनके पास केंद्र में है।

सरकार किसी के दबाव में नहीं झुकेंगी : राउत

शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा की गई कार्रवाई को पार्टी ने मंगलवार को राजनीतिक प्रतिशोध करार दिया और कहा कि महाराष्ट्र सरकार या उसके नेता किसी दबाव के आगे नहीं झुकेंगे। शिवसेना सांसद संजय राउत ने भाजपा का नाम लिए बिना कहा कि उसे (भाजपा) अगले 25 साल तक महाराष्ट्र में सत्ता में आने का ख्वाब देखना बंद कर देना चाहिए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget