जातिगत जनगणना जरूरी: पटोले

मुंबई

विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले ने एक बार जातिगत जनगणना का समर्थन करते हुए कहा कि समाज में जातिगत संघर्ष को रोकने के लिए जातिगत जनगणना आवश्यक है। रविवार को महाबलेश्वर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पटोले ने कहा कि वे लोकतांत्रित प्रणाली को मजबूत बनाने का काम करते रहेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य की स्थापना के पहले यशवंतराव चव्हाण, वसंतदादा पाटिल, वसंतराव नाइक जैसे वरिष्ठ नेताओं ने बेहद प्रतिकूल परिस्थितियों में अपनी वैचारिक विविधता के साथ राज्य की बहुत प्रगति की। नई पीढ़ी और कार्यकर्ताओं को इस इतिहास को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। पटोले ने कहा कि पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को गांव-गांव जाकर राज्य और देश के विकास में कांग्रेस पार्टी के योगदान को बताने की आवश्यकता है। पटोले ने कहा कि आरक्षण को लेकर राज्य सहित पूरे देश में जारी जनसंघर्ष को खत्म करने के लिए जातिगत जनगणना आवश्यक है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget