विरोधियों पर बरसे सीएम उद्धव ठाकरे


मुंबई

महाविकास आघाड़ी सरकार की पहली सालगिरह की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने शिवसेना के मुखपत्र को दिए इंटरव्यू में कई अहम मुद्दों पर राय दी। मुखपत्र के कार्यकारी संपादक संजय राउत से बातचीत में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की मौत से लेकर लव जिहाद जैसे मुद्दों के बारे में बातचीत की और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। केंद्रीय एजेंसियों का पूरे देश में दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि मैं शांत हूं इसका मतलब यह नहीं कि मैं नपुंसक हूं। परिवार पर हमले करना यह हमारी संस्कृति नहीं है। अगर वे हमारे परिवारों और बच्चों पर हमले कर रहे हैं तो उन्हें याद रखना चाहिए कि उनके भी परिवार और बच्चे हैं। सीएम ठाकरे ने कहा कि वे कोई धुले हुए चावल नहीं हैं, अगर हमने तय कर लिया तो हम उनकी 'खिचड़ी' भी बनाना जानते हैं। ज्यादा हावी होंगे तो हाथ धोकर पीछे पड़ जाऊंगा।

सीएम ठाकरे लव जिहाद के मुद्दे पर पूछे गए सवाल पर कहा कि आप (केंद्र सरकार) कहेंगे तो हम इस पर कानून बना देंगे, लेकिन पहले ये बताया जाए कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक गोवध के खिलाफ कानून कब आएगा। केंद्र सरकार ने अब कश्मीर से पाबंदियां हटा ली हैं तो क्या आप गोवा या पूर्वोत्तर राज्यों में ऐसा कानून लाएंगे, जहां आपकी सरकार है। सीएम ठाकरे ने कहा कि भाजपा उन्हीं राज्यों में ऐसे मुद्दों को उठाती है, जहां चुनाव होने होते हैं और अगर लोग वोट देते हैं तो वे कानून बना देते हैं। हिंदुत्व को अपनी राजनीति के लिए इस्तेमाल न करें। हम कभी ऐसे सहूलियत के हिंदुत्व में शामिल नहीं रहे। भाजपा पर हमला बोलते हुए सीएम ठाकरे ने यह भी कहा कि राजनीति में ही लव जिहाद का कॉन्सेप्ट लागू क्यों नहीं होना चाहिए? हिंदू लड़की से मुस्लिम लड़के की शादी का विरोध करते हैं तो आपने महबूबा मुफ्ती के साथ गठबंधन क्यों किया? नीतीश कुमार?, चंद्रबाबू नायडू? विभिन्न राजनीतिक विचारधारा वाली पार्टियों के साथ आपने गठबंधन किया है क्या यह लव जिहाद नहीं है? जब सीएम ठाकरे से पूछा गया कि क्या उनका हिंदुत्व बदल गया है? तो इस सवाल पर उन्होंने कहा, हिंदुत्व कोई धोती नहीं जो बदल ली जाए। यह हमारे खून और नसों में है। मैं अपने पिता और दादा के हिंदुत्व में यकीन रखता हूं। बाल ठाकरे कहते थे कि मुझे मंदिर में घंटा बजाने वाला हिंदू नहीं चाहिए। मुझे आतंकियों को खदेड़ने वाला हिंदू चाहिए। हिंदुत्व मतलब क्या? हिंदुत्व मतलब सिर्फ पूजा-अर्चना करना और घंटा बजाना है क्या? इससे कोरोना नहीं जाता, यह सिद्ध हो गया है। बेवजह किसी भी धर्म की आड़ में आप राजनीति मत करो। सीएम उद्धव ठाकरे से जब सवाल किया गया कि पूरे देश में सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला जमकर गूंजा, सीबीआई को जांच सौंपी गई लेकिन बिहार चुनाव के बाद मुद्दा शांत हो गया? इस पर सीएम ने कहा, जिन्हें लाश पर रखे मखन बेचने की जरूरत पड़ती है, वे राजनीति करने के लायक नहीं हैं। दुर्भाग्य से एक युवक की जान चली गई। उस पर आप राजनीति करते हो? कितने निचले स्तर पर जाते हो? यह विकृति से भी गंदी राजनीति है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget