खाड़ी में फेंककर लिया अपमान का बदला

 मुंबई 

अपराध शाखा ने दो ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने पांच साल पहले हुए झगड़े का बदला लेने के लिए एक शख्स का अपहरण कर उसे कलवा की खाड़ी में धकेल दिया था। 

पुलिस एफआएआर दर्ज करने के बाद आरोपियों को ढूंढते हुए अहमदनगर पहुंची थी। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ करने पर पता चला कि आरोपियों ने पहले पीड़ित को शराब पिलाई, इसके बाद उसे कलवा खाड़ी में धकेल दिया। पुलिस लापता व्यक्ति की तलाश में शनिवार से खाड़ी में तलाशी अभियान शुरू करेगी। 

मामले में गिरफ्तार आरोपियों के नाम दिनेश मेहरा और महेश कुटे हैं, जिस व्यक्ति को अगवा किया गया है, उनका नाम मनीष हर्षे है। मेहरा ने बताया कि हर्षे के साथ उसकी दोस्ती थी और दोनों अक्सर साथ बैठकर शराब पीते थे, लेकिन शराब पीने के बाद हर्षे उससे बदसलूकी करता था। पांच साल पहले तो उसने मेहरा की पिटाई तक कर दी थी। मेहरा इसका बदला लेना चाहता था। 3 नवंबर को एक बार फिर हर्षे ने मेहरा से गाली गलौज की। इससे नाराज मेहरा ने कुटे के साथ मिलकर हर्षे को सबक सिखाने की ठान ली। दोनों ने गोराई इलाके में हर्षे को जबरन ऑटोरिक्शा में बैठाया और रास्ते में जमकर शराब पिलाई और रास्ते में ले जाकर खाड़ी से धक्का दे दिया। हर्षे की पत्नी दिल्ली स्थित एक बैंक में उच्च पद पर हैं। जब हर्षे देर रात तक घर नहीं आया और उनका मोबाइल भी बंद मिला तो उसकी खोजबीन शुरू हुई। बिल्डिंग के वाचचैन ने बताया कि दो लोग विवाद के बाद उसे अपने साथ जबरन ऑटोरिक्शा में बिठाकर ले गए। इसके बाद बोरीवली पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई गई। सीनियर इंस्पेक्टर सुनील माने की अगुआई में अपराध शाखा ने भी समानांतर छानबीन शुरू की और मिले सुरागों के आधार पर पता चला कि जिस ऑटो से हर्षे को अगवा किया गया है, वह नासिक की तरफ गया है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget