गृहमंत्री अमित शाह की घेराबंदी में घिरी कांग्रेस!

गुपकर गठबंधन को लेकर कांग्रेस में दो मत

Amit Shah

नई दिल्ली

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर में बने गुपकर गठबंधन के बहाने कांग्रेस को घेरा है। उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट किए और गुपकर को गैंग बताते हुए कांग्रेस से इस मामले पर स्थिति साफ करने के लिए कहा। गृह मंत्री के बयान के बाद प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हुआ। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शाह के बायन को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने इसे भ्रामक, शरारतपूर्ण और सरासर झूठ बताया। सुरजेवाला ने यह भी कहा कि कांग्रेस पीएजीडी में शामिल नहीं है और वह जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद का चुनाव लड़ रही है। हालांकि इस मामले में सुरजेवाला का बयान और कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद का बयान मेल नहीं खाता है।

गुपकर गठबंधन पर खुर्शीद ने कहा कि मेरी पार्टी ने इस मामले एक औपचारिक स्टैंड ले लिया है। मुद्दा यह था कि क्या हमें स्थानीय चुनावों में हाथ मिलाना चाहिए। इसलिए, उनके साथ आंशिक जुड़ाव था। उस घोषणा के वैचारिक निहितार्थों की गंभीर चर्चा हुई है। ऐसे में सवाल अभी भी बरकरार है कि कांग्रेस गुपकर गठबंधन में शामिल है कि नहीं। गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को पीएजीडी को गुपकर गैंग करार दिया और आरोप लगाया कि वह जम्मू एवं कश्मीर में विदेशी ताकतों का हस्तक्षेप चाहता है। उन्होंने आरोप भी लगाया कि कांग्रेस और गुपकर गैंग जम्मू एवं कश्मीर को आतंक और उत्पात के युग में वापस ले जाना चाहते हैं। साथ ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से पीएजीडी के कदमों पर पार्टी का रुख साफ करने को कहा।

कांग्रेस गुपकर गठबंधन का हिस्सा: फारूक अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि कांग्रेस अभी भी गुपकर घोषणापत्र गठबंधन का हिस्सा है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव भी हम साथ लड़ेंगे। फारूक अब्दुल्ला का यह बयान कांग्रेस के उस फैसले के बाद आया है जिसमें पार्टी ने डीडीसी चुनाव में उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget