चेन्नई के खिलाफ पंजाब को हर हाल में जीतना होगा

csk vs kxip

अबुधाबी 

अभी भी प्लेआफ की दौड़ में बरकरार किंग्स इलेवन पंजाब को रविवार दोपहर साढ़े तीन बजे खेले जाने वाले मैच में चेन्नई के खिलाफ हर हालत में अच्छी जीत दर्ज करनी होगी जबकि महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई के लिये यह प्रतिष्ठा का ही मुकाबला है। 

राजस्थान रॉयल्स से सात विकेट से हराने के बाद पंजाब की उम्मीदों को करारा झटका लगा है। केएल राहुल की टीम ने लगातार पांच मैच जीतकर प्लेआफ की संभावना प्रबल की थी। इस हार के बाद अब पंजाब का भविष्य उसके हाथ में नहीं रह गया है। चेन्नई को हराने के बाद भी उसे दूसरे मैचों के नतीजे अनुकूल रहने की दुआ करनी होगी। अगर सनराइजर्स हैदराबाद (12 मैचों में 10 अंक) दोनों मैच जीत लेती है और दिल्ली कैपिटल्स (14) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (14) के बीच मुकाबला जीतने वाली टीम के अंक 16 हो जायेंगे तो ऐसी दशा में अंक या नेट रनरेट के आधार पर भी पंजाब क्वालीफाई नहीं कर सकेगी। सनराइजर्स एक मैच हार जाता है तो पंजाब के क्वालीफाई करने की उम्मीदें हैं बशर्ते वह रविवार को चेन्नई को हरा दे। पंजाब के फिलहाल 13 मैचों में 12अंक है और उसका नेट रनरेट माइनस 0.133 है। दूसरी ओर पहली बार प्लेआफ की दौड़ से बाहर हुई चेन्नई जीत के साथ विदा लेना चाहेगी। धोनी की टीम ने आरसीबी और कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ लगातार दो मैच जीते हैं। पंजाब के लिये कप्तान राहुल टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बना चुके हैं जबकि क्रिस गेल शानदार फार्म में हैं जो कल 99 रन पर आउट होने का गम भुलाकर उतरना चाहेंगे। वहीं चौथे नंबर पर निकोलस पूरन ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। मयंक अग्रवाल के खेलने को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है जो चोट के कारण पिछले तीन मैच नहीं खेल सके। रॉयल्स के खिलाफ मोहम्मद शमी समेत पंजाब के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget