बेस्ट कर्मचारियों की भी दिवाली होगी जगमग

Best Buses

मुंबई

महापौर किशोरी पेडणेकर ने बेस्ट उपक्रम के कर्मचारियों को सानुग्रह अनुदान के तौर पर 10 हजार 100 रुपए देने की घोषणा की है। इससे बेस्ट उपक्रम के 34 हजार कर्मचारियों की दीवाली मीठी होने वाली है। बेस्ट उपक्रम को सानुग्रह अनुदान की राशि मनपा से कर्ज लेकर दी जाएगी। पिछले साल बेस्ट कर्मचारियों को 9 हजार 100 रुपया बोनस दिया था। बेस्ट समिति अध्यक्ष प्रवीण शिंदे ने बताया कि 10 नवंबर तक सानुग्रह अनुदान की राशि कर्मचारियों के खाते में डाल दी जाएगी। गुरुवार को बेस्ट समिति की होने वाली बैठक होने वाली बैठक में मुहर लगने के बाद कर्मचारियों के खाते में पैसा डाला जाएगा। शिंदे ने बताया कि सानुग्रह अनुदान की राशि से बेस्ट उपक्रम पर 36 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा।

बेस्ट कर्मचारियों को सानुग्रह अनुदान देने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अगुवाई में पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे और महापौर किशोरी पेडणेकर की उपस्थिति में मंगलवार को वर्षा बंगले पर बैठक हुई थी। इस बैठक में बेस्ट यूनियन के पदाधिकारियों के साथ सकारात्मक बातचीत हुई। कोराना काल में जान हथेली पर लेकर बस चलाने वाले बेस्ट कर्मियों को बोनस मिलने के लिए महापौर ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था। महापौर निवास पर गट नेताओं की बैठक में किशारी पेडणेकर ने बेस्ट कर्मचारियों को सानुग्रह अनुदान देने की घोषणा की।

इस अवसर पर उप महापौर सुहास वाडेकर, सभागृह नेता विशाखा राऊत, विरोधी पक्ष नेता रवि राजा, राकांपा नेता राखी जाधव, सुधार समिति अध्यक्ष सदानंद परब, बेस्ट समिति अघ्यक्ष प्रवीण शिंदे, अतिरिक्त मनपा आयुक्त सुरेश काकानी सहित बेस्ट यूनियन के पदाधिकारी उपस्थित थे।

बेस्ट कर्मचारियों को वर्ष 2018 में 5,500 सानुग्रह अनुदान दिया गया था, लेकिन बाद में उसे कर्मचारियों के वेतन से काट लिया गया था। 2019 में 9,100 रुपए दिया गया था। इस बार 10 हजार 100 रुपए अनुदान दिया जा रहा है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget