जेएनपीटी ने नवंबर में 7.61 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की

JNPT

मुंबई

जवाहरलाल नेहरू पत्तन न्यास (जेएनपीटी) भारत का शीर्ष कंटेनर पोर्ट है। जेएनपीटी ने नवंबर महीने में 413,737 टीईयू कार्गो का प्रहस्तन किया जो पिछले वर्ष में प्रहस्तित कार्गो की तुलना में 7.61 प्रतिशत अधिक है। लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के कारण देश की अर्थव्यवस्था पूर्वस्थिति में आने की वजह से यह वृद्धि हुई है । नवंबर महीने के दौरान जेएनपीटी में कंटेनरों सहित 5.70 मिलियन टन कुल यातायात का प्रहस्तन किया गया, जो नवंबर 2019 में प्रहस्तित 5.22 मिलियन टन से 9.04 प्रतिशत अधिक है । नवंबर महीने में प्रहस्तित कुल यातायात में 0.59 मिलियन टन बल्क कार्गो शामिल है, जबकि पिछले वर्ष इसी महीने में 0.55 मिलियन टन बल्क कार्गो का प्रहस्तन किया गया था । नवंबर महीने में ट्रेनों का औसत मासिक टर्मिनल प्रहस्तन समय घटकर 4:28 घंटे गया जो अक्तूबर और सितंबर में क्रमश: 4:48 घंटे और 6:18 घंटे था । ट्रेनों का औसत मासिक घुमाव समय (ट्रेनों को लगाने से लेकर हटाने तक) नवंबर महीने में घटकर 9:08 घंटे हो गया जो अक्तूबर और सितंबर महीने में क्रमश: 9:45 घंटे और 13:34 घंटे था ।

जेएनपीटी में हालही में शुरू हुए केंद्रीकृत पाङ्क्षर्कग प्लाजा ने नवंबर महीने में 43,619 ट्रैक्टर ट्रेलरों का प्रहस्तन किया गया, जिनके द्वारा 68,909 टीईयू कार्गो की यातायात की गई । जेएनपीटी के प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए जेएनपीटी के अध्यक्ष संजय सेठी, भा.प्र.से. ने कहा जेएनपीटी देश की आर्थिक प्रगति में अपना योगदान जारी रखेगा और देश में बंदरगाह क्षेत्र के विकास पथ को बनाए रखने के लिए अपने कर्तव्यों का पालन करेगा। नवंबर महीने में कार्गो प्रहस्तन में हुई वृद्धि देश में परिस्थिति में सुधार होने का संकेत देती है और ये रुझान चालू वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में भी जारी रहेंगे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget