बहुत काम की है ये काली चीज, जिसे आप हर दिन कूड़े में फेंक देते है


चाय तो लगभग सभी लोग पीते ही हैं, और चाय बनाने के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली चाय की पत्ती को कूड़ेदान में फेंक दिया जाता है, लेकिन हम आपको बता दें कि ये उबली हुई चाय की पत्ती बेहद काम की होती है, चाय की पत्ती में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो बेहद फायदेमंद होते है, तो चलिए जान लेते हैं उबली हुई चाय की पत्ती के फायदे। 

उबली हुई चाय की पत्ती से होते हैं ये फायदे 

चायपत्ती से एक बार चाय बनाने के बाद आप इसे सुखाकर दोबारा भी इस्तेमाल में ला सकते हैं, इसकी चाय भी स्वाद वाली बनेगी, लेकिन चाय की पत्ती को धूप में सुखाकर ही दोबारा उपयोग करें। 

चाय की पत्ती का पानी प्राकृतिक कंडीशनर का काम करता है, चाय बनाने के बाद बची हुई पत्ती को धो लें, फिर उसे दुबारा से गरम पानी में उबाल लें, इसे छान लें और पानी को ठंडा करने के बाद बालों को साफ करें। 

उबली हुई चाय की पत्ती को पानी में डाल लें और उस पानी को उबाल कर उसकी थोड़ी-सी मात्रा काबुली चने में डाल दें, इससे छोले का रंग आकर्षित दिखेगा और खुशबू व स्वाद भी अच्छा आएगा। 

सनबर्न दूर करने का कोई सही तरीका समझ नहीं आ रहा है, तो कुछ टी-बैग्स लेकर ठंडे पानी में डुबो दें, उन्हें हल्के हाथों से दबाकर चेहरे पर रखकर कुछ देर के लिए लेट जाए, इससे आपकी सनबर्न की प्रॉब्लम दूर हो जाएगी। 

चाय की पत्ती में एंटी- ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, चोट या किसी जख्म पर चाय की पत्ती का लेप लगाने से खून बहना बंद हो जाता है, उबली हुई चाय की पत्ती को अच्छी तरह धो लें और इसे पीसकर चोट पर लगाने से घाव जल्दी भर जाएगा। 

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget