तवांग में आईटीबीपी की 'अद्भुत' तैयारी

चीन को छोटी सी हिमाकत पड़ेगी भारी

tawang

तवांग

लद्दाख में भारत और चीन के बीच जारी विवाद की वजह से दोनों देशों के बीच अब तक तनाव जारी है। इस तनाव के बीच भारतीय सुरक्षाबल लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक एलएसी पर कहीं भी चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है। एक तरफ जहां उत्तर में लद्दाख के गलवान में भारतीय फौज चीनी पीएलए पर बुरी तरह पटखनी दे चुकी है, वहीं दूसरी पूर्व में अरुणाचल प्रदेश में कहीं भी आईटीबीपी चीन की किसी भी गलत हरकत पर उसे और भी बुरा सबक देने के लिए तैयार बैठी है। तवांग में सीमा पर तैनात आईटीबीपी के जवान जोश से लबरेज हैं। आईटीबीपी का कहना है कि वो यहां चीन की हर हरकत पर नजर रखे हुए हैं और उसे सबक सिखाने के लिए पूरी तरह तैयार है।

तवांग सेक्टर में LAC पर बनी फॉरवर्ड पोस्टों से चीन की सेना की मौजूदगी देखी जा सकती है। यहां पिछले कुछ सालों में कम समय में फॉरवर्ड पोस्टों पर पहुंचने के लिए तेजी से बुनियादी ढांचा विकसित किया गया है। यहां पर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के सैनिकों की तैयारी के उच्च स्तर को भी देखा जा सकता है। यहां एक फॉरवर्ड पोस्ट पर ITBP की 55वीं बटालियन के कमांडर IB Jha ने बताया, "जब इस तरह की घटनाएं (पूर्वी लद्दाख में चीनी सेना द्वारा घुसपैठ) होती हैं, तो हमें हाई अलर्ट मोड पर रहना होगा ताकि ऐसी अप्रत्याशित घटनाएं न हों और कोई आश्चर्य की बात न हो। यहां ठंड बहुत ज्यादा है जो चीजों को कठिन बना देती है, हमारे जवान बहुत अधिक सतर्क हैं और हर समय सीमा पर नजर रखे हुए हैं।" आपको बता दें कि आईटीबीपी ने पूर्वी लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में एलएसी पर चीनी सैनिकों के साथ जारी संघर्ष में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। शुरुआती हिंसक झड़पों में,आईटीबीपी ने पैंगोंग झील, फिंगर क्षेत्र और 14,15, 17 और 17 ए में पैट्रोलिंग पॉइंट्स पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे चीनी सैनिकों को कई बार सबक सिखाया। इस दौरान कई बार संख्या में कम होने के बावजूद आईटीबीपी के सैनिकों ने मल्लयुद्ध में चीनी सैनिकों की खुब पिटाई की, जिस वजह से न सिर्फ घायल हुए बल्कि पीछे हटने को मजबूर भी हुए। आपको बता दें कि तवांग सेक्टर एलएसी पर पूर्वोत्तर में सबसे संवेदनशील क्षेत्रों में से एक है। साल 1962 के युद्ध में चीनी भारतीय क्षेत्र में काफी अंदर तक पहुंचने में सफल रहा था।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget