आर्मी मेडिकल कोर में सेवा के लिए आगे आएं युवा डॉक्टर: राजनाथ


 लखनऊ

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में मंगलवार को 115वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस दौरान 114वें स्थापना दिवस के मेधावियों के मेडल भी प्रदान किया गया। दीक्षा समारोह में टॉपर्स को मेडल दिए गए। वहीं, फाउंडेशन डे में विभिन्न प्रोफेशनल एक्जाम में सर्वोच्च अंक पाने वाले मेधावियों को मेडल मेडल मिले। इसमें सर्वाधिक मेडल पर बेटियों का कब्जा रहा। स्थापना दिवस मंगलवार 11 बजे शुरू हुआ। इस दौरान बतौर मुख्य अतिथि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह वर्चुअल मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि रूस में बनी स्पुतनिक वैक्सीन जल्द भारत आ रही है। स्वदेशी वैक्सीन की भी तैयारी चल रही है। वायरस का नया स्ट्रेन बड़ा खतरा है। वायरस से जंग वैक्सीनेशन होने तक जारी रहेगी। उन्होंने कहा िक आर्मी मेडिकल कोर में सेवा के लिए आगे आएं युवा डॉक्टर। बता दें िक केजीएमयू का दीक्षा समारोह 21 दिसंबर को मनाया गया। दीक्षा समारोह में सर्वोच्च मेडल पर कब्जा जमाने वाले 50 फीसद से ज्यादा बेटे हैं। वहीं, स्थापना दिवस में वर्ष 2019 व 2020 के मेधावियों को एक साथ मेडल प्रदान किए गए। इसमें बेटियों का जलवा दिखा। इसमें 2019 के मेधावियों में 70 फीसदी बेटियां हैं, 30 फीसदी लड़के हैं। 2020 के मेधावियों में 60 फीसदी बेटियां हैं, 40 प्रतिशत बेटों ने बाजी मारी है। वर्ष 2019 में एनआरसी कानून के प्रदर्शन के चलते स्थापना दिवस टाल दिया गया था। शहर में धारा 144 लागू थी। 

128 लोगों को मिले मेडल मंगलवार को दोनों वर्ष के स्थापना दिवस समारोह में 128 मेधावियों को मेडल व अवॉर्ड प्रदान किए गए। इसमें वर्ष 2020 के 36 मेधावी व दो नर्सिंग कर्मी हैं। एमबीबीएस के 28 मेधावियों को35 मेडल दिये जाएंगे। वहीं बीडीएस के छह मेधावियों 10 मेडल से प्रदान किए जाएंगे। इस दौरान 21 गोल्ड, 5 ब्रांज व 16 सिल्वर मेडल दिए गए। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget