महाबलेश्वर पहुंचे रिकार्ड तोड़ पर्यटक

 रात 10 के बाद कार्यक्रमों पर लगा प्रतिबंध  

Crowd

मुंबइ

महाराष्ट्र में नए साल का  जश्न मनाने के लिए महाबलेश्वर और पंचगनी पहाड़ी पर्यटन केंद्रों पर लोगों के पहुंचने के बीच प्रशासन ने 31 दिसंबर को रात दस बजे के बाद सभी कार्यक्रमों के आयोजन पर पाबंदी लगा दी है और धारा 144 लगाते हुए चार से अधिक व्यक्तियों के एक जगह इकट्ठा होने पर रोक लगा दी है। इस संबंध में मंगलवार को एक आधिकारिक आदेश जारी किया गया। इधर तीन दिन की छुट्टियों में महाबलेश्वर और पंचगनी में रिकार्ड तोड़ 60 हजार पर्यटक पहुंचे। 

जिलाधिकारी शेखर सिंह ने आदेश में कहा है कि सातारा जिले में इन पहाड़ी पर्यटन केंद्रों पर नव वर्ष की पूर्व संध्या पर होटलों, रेस्तरांओं और ढाबों को रात ग्यारह बजे के बाद संचालित करने की अनुमति नहीं होगी। 

हालांकि, राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित होटलों, रेस्तारांओं और ढाबों को उससे छूट दी गई है। आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 की स्थिति और महाबलेश्वर एवं पंचगनी में पर्यटकों के आगमन के मद्देनजर 31 दिसंबर को कुछ पाबंदियां लगाना अहम हो गया है। उसमें कहा गया है कि सीआरपीसी की धारा 144 के तहत, मैं 31 दिसंबर को महाबलेश्वर एवं पंचगनी में रात दस बजे के बाद सभी कार्यक्रमों पर पाबंदियां लगाता हूं। जिलाधिकारी ने उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम और भादंसं के तहत कार्रवाई की चेतावनी दी है। 

नववर्ष के स्वागत पर जुटी भीड़

देशी विदेशी पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र बन चुके महाबलेश्वर और पंचगनी में नए साल का स्वागत करने के लिए पर्यटकों की भारी भीड़ जुट रही है। क्रिसमस के बाद से लगातार छुट्टियों के कारण, महाबलेश्वर में पर्यटकों की भीड़ ने इस बार रिकॉर्ड तोड़ दिया है। लगातार तीन दिनों की छुट्टी में साठ हजार पर्यटक महाबलेश्वर आए। 24 से 27 दिसंबर के बीच पंचगनी महाबलेश्वर के क्षेत्र में दस हजार छोटे और बड़े वाहन हिल स्टेशन पर आए। पर्यटकों की बड़ी संख्या के कारण शहर के विभिन्न हिस्सों में यातायात जाम हो गया था। महाबलेश्वर और पंचगनी के बीच सात से आठ किलोमीटर तक वाहनों की कतारें थीं। प्रतापगढ़ से महाबलेश्वर तक की सड़क भीड़ से भरी थी। ट्रैफिक जाम से बचने के लिए प्रशासन की व्यवस्था के बावजूद कंट्रोल करना मुश्किल हो गया, क्योंकि भीड़ अपेक्षा से अधिक थी। पुणे-मुंबई के पर्यटकों के कारण, वाया-पचगनी रोड पर पसराणी घाट, पचगनी-महाबलेश्वर मार्ग पर सात से आठ किलोमीटर तक वाहनों की कतारें लगी थीं। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget