मार्च तक बढ़ सकते हैं मोबाइल फोन कंपनियों के टैरिफ रेट

महंगा होगा डेटा


नई दिल्ली

मोबाइल फोन यूजर्स के लिए अच्छी खबर नहीं है। अगले साल मार्च तक टैरिफ रेट बढ़ सकते हैं। इससे भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) को फायदा होगा। फाइनेंशियल ईयर 2022 में इनके एवरेज रेवेन्यू पर यूजर में लगभग 20फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है। यह अनुमान ब्रोकरेज फर्म सिक्योरिटीज ने अपनी हालिया रिपोर्ट में दिया है।

पिछले साल दिसंबर में टेलीकॉम कंपनियों ने प्री-पेड टैरिफ 25 से 40 पर्सेंट बढ़ाए थे। टैरिफ रेट में दूसरी बढ़ोतरी इसी दिसंबर में होने वाली थी लेकिन कोविड-19 के चलते इसको टालकर अगले कैलेंडर ईयर में कर दिया गया। तब कंपनियां फ्लोर प्राइस यानी मिनिमम टैरिफ रेट को लेकर क्लैरिटी चाहती थीं ।

डेटा प्राइस में 5-9 गुना की बढ़ोतरी चाहती हैं कंपनियां

टेलीकॉम रेगुलेटर ने फ्लोर प्राइस के आकलन के लिए कंसल्टेशन पेपर जारी किए हैं। टेलीकॉम कंपनियों ने डेटा प्राइस में पांच से नौ गुना की बढ़ोतरी किए जाने की मांग की है। कंसल्टेशन को लेकर क्या हुआ है अभी तक इसका पता नहीं चला है।

सिक्योरिटीज के मुताबिक सबसे पहले टैरिफ में बढ़ोतरी वो करेगी और शायद वह फ्लोर प्राइस पर क्लैरिटी आने का इंतजार कर रही है। फ्लोर प्राइस जो भी होगा, मार्च तक टैरिफ बढ़ा देगी। इसके बाद दूसरी टेलीकॉम कंपनियां भी टैरिफ रेट बढ़ाएंगी। इससे भारती और वीआईएल का फाइनेंशियल ईयर 2022 में 20 पर्सेंट बढ़ सकता है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget