वैक्सीन के स्वागत के लिए तैयार दिल्ली-हैदराबाद एयरपोर्ट

तापमान, स्टोरेज समेत सभी तैयारियां पूरी 

Airport

नई दिल्ली
 

कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत से ही वैक्सीन का तैयार होना बड़ी चुनौती थी। अब जब वैक्सीन बनकर तैयार होने के संकेत मिले हैं, तो इनका ट्रांसपोर्टेशन भी मुश्किलों से भरा हुआ है। हालांकि, दिल्ली और हैदराबाद के एयरपोर्ट कोविड-19 की वैक्सीन के सुरक्षित स्वागत के लिए पूरी तरह तैयार है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बात पर जोर दिया था कि कुछ ही हफ्तों में वैक्सीन मिल सकती है। 

दिल्ली एयरपोर्ट पर दो कार्गो टर्मिनल्स हैं, जो विश्व स्तरीय गुड डिस्ट्रीब्यूशन प्रैक्टिस यानि जीडीपी प्रमाणित तापमान नियंत्रित सुविधा से लैस हैं। इसके अलावा दिल्ली एयरपोर्ट पर अलग से ठंडे चैंबर के अलावा तापमान नियंत्रित जोन हैं। यहां का तापमान -20 से लेकर -25 डिग्री सेल्सियस रहता है। दिल्ली एयरपोर्ट के अधिकारी बताते हैं कि यहां ठंडे चेंबर के अलावा डॉलीज भी हैं, जो टर्मिनल और हवाई जहाज के बीच वैक्सीन ठंडक देती रहेंगी। वहीं, दिल्ली एयरपोर्ट पर क्यूआर कोड आधारित ईगेट पास सु विधा है ।इसस े कागजा े ंका काम और इंसानों का दखल कम होता है। इससे वैक्सीन की आवक- जावक को रफ्तार मिलेगी। खास बात है कि महामारी के दौरान दिल्ली एयरपोर्ट ने लाखों पीपीई किट्स बांटने में भी बड़ी भूमिका निभाई थी। 

दिल्ली की तरह जीएमआर हैदराबाद एयर कार्गो भी पूरी तरह से तैयार है। यहां भी तापमान का ध्यान रखने वाली आधुनिक फार्मा और वैक्सीन स्टोरेज और प्रोसेसिंग जोन हैं। हैदराबाद एयरपोर्ट के प्रवक्ता ने कहा, जीएमआर हैदराबाद एयर कार्गो भारत का पहला जीडीपी प्रमाणित तापमान नियंत्रित फार्मा जोन होने का दावा करता है। यहां टर्मिनल पर कई टेम्प्रेचर जोन हैं, जिसमें -20 डिग्री से लेकर -25 डिग्री सेल्सियस तक चीजों को रखने वाले ठंडे कंटेनर मौजूद हैं। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget