चौटाला ने दी इस्तीफे की धमकी

चंडीगढ़

पिछले साल 2019 के अक्टूबर महीने में हरियाणा के राजनीतिक गलियारों में गहमागहमी मची थी। वजह था विधानसभा चुनावों के बाद किसी भी दल के पास स्पष्ट बहुमत नहीं होना। ऐसे में किंगमेकर बनकर उभरी जननायक जनता पार्टी ने भाजपा को समर्थन देकर प्रदेश में मनोहर लाल खट्टर को फिर से कुर्सी पर बैठा दिया। अब एक साल से कुछ अधिक समय के बाद एक बार फिर से सियासत नाटकीय मोड़ लेती दिख रही है।

किसान आंदोलन को लेकर हरियाणा में राजनीतिक उलटफेर की स्थिति बनती नजर आ रही है। भाजपा की सहयोगी दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी में भी कृषि कानूनों को लेकर हरियाणा में सरकार से अलग होने की मांग तेज होने लगी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डेप्युटी सीएम दुष्यंत चौटाला ने हाल ही में इस मुद्दे पर विधायकों के साथ बैठक की। दुष्यंत चौटाला पर दबाव बढ़ता जा रहा है। बैठक में पार्टी विधायकों से किसान आंदोलन का उनके क्षेत्र में असर,

राज्यों को लोगों के रुख आदि के बारे में फीडबैक लिया गया। खास बात है कि दुष्यंत की पार्टी के पास केवल 10 विधायक ही हैं। लेकिन फिर भी हरियाणा की सत्ता को बनाने-बिगाड़ने की स्थिति में हैं। चौटाला के इस्तीफा देने की धमकी के बाद राज्य में कांग्रेस को मौका नजर आ रहा है। कई कांग्रेसी प्रदेश में सक्रिय हो गए हैं, जबकि खट्टïर का दावा है कि उनकी सरकार को कोई खतरा ही नहीं है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget