ऑस्ट्रेलिया ने मैच जीता, भारत ने सीरीज


सिडनी 

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 186 रन बनाए और भारत को जीत के लिए 187 रन का टारगेट मिला। भारतीय टीम विराट कोहली (85) के शानदार प्रदर्शन के बावजूद सात विकेट खोकर 174 रन ही बना सकी और 12 रन से मैच हार गई। 

विराट- धवन दूसरे विकेट के लिए 74 रन जोड़े 

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने दमदार प्रदर्शन किया और 61 गेंदों पर चार चौके, तीन छक्के लगाते हुए 85 रन बनाए। उन्होंने पारी के 12वें ओवर की अंतिम गेंद पर सिंगल लेकर टी20 इंटरनैशनल करियर का अपना 25वां अर्धशतक पूरा किया। विराट ने शिखर धवन (28) के साथ दूसरे विकेट के लिए 74 रन जोड़े। विराट ने डैनियल सैम्स के पारी के 16वें ओवर की लगातार गेंदों पर छक्के जड़े और अपने मंसूबे जाहिर कर दिए। इसी ओवर की अंतिम गेंद पर हार्दिक पंड्या(20) ने भी सिक्स जड़ा। विराट और पंड्या ने 5वें विकेट के लिए 44 रन जोड़े। विराट को पारी के 19वें ओवर की पहली गेंद पर एंड्रयू टाय ने डैनियल सैम्स के हाथों कैच कराया। 

स्वेप्सन ने झटके तीन विकेट 

धवन को स्वेप्सन ने डैनियल सैम्स के हाथों कैच कराया, जिन्होंने 21 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके लगाए। स्वेप्सन ने ही संजू सैमसन (10) और श्रेयस अय्यर (0) को पविलियन की राह दिखाई। स्वेप्सन ने 4 ओवर में 23 रन देकर तीन विकेट झटके। उनके अलावा ग्लेन मैक्सवेल, सीन एबॉट, एंड्रयू टाय और एडम जम्पा ने 1-1 विकेट लिया। 

भारत को मिला 187 रन का टारगेट 

ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 186 रन बनाए और भारत को जीत के लिए 187 रन का टारगेट मिला। ओपनर मैथ्यू वेड ने सर्वाधिक 80 रन बनाए। उन्होंने 53 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए। वहीं, ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने 54 रन बनाए, 36 गेंदों पर तीन चौके और तीन छक्के जमाए। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 90 रन जोड़े। भारत के लिए वॉशिंगटन सुंदर ने 34 रन देकर दो विकेट झटके। युवा पेसर टी नटराजन और शार्दुल ठाकुर ने 1-1 विकेट लिया। 

खाता भी नहीं खोल सके राहुल 

ग्लेन मैक्सवेल से कैप्टन आरोन फिंच ने पारी का पहला ओवर कराया जिन्होंने सफलता भी हासिल की। लोकेश राहुल को खाता खोले बिना ही पविलियन लौटना पड़ा जो पारी की दूसरी ही गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में स्टीव स्मिथ को कैच दे बैठे। इसके बाद विराट ने शिखर धवन के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। 

भारत की खराब फील्डिंग 

स्मिथ 18 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे, जबकि विकेटकीपर लोकेश राहुल ने सुंदर की गेंद पर उन्हें स्टंप करने का मौका गंवा दिया। स्मिथ हालांकि इसका फायदा नहीं उठा पाए और दो गेंद बाद इसी स्पिनर की गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 23 गेंद की अपनी पारी में एक चौका जड़ा। वेड ने नटराजन की गेंद पर दो रन के साथ 34 गेंद में लगातार दूसरा अर्धशतक पूरा किया। मैक्सवेल जब 38 रन बनाकर खेल रहे थे तब उन्हें दूसरा जीवनदान मिला जब ठाकुर की गेंद पर चहल ने उनका आसान कैच टपका दिया। मैक्सवेल ने अगली गेंद पर छक्का जड़ा और टी नटराजन पर चौके के साथ 31 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। 

सुंदर ने झटके दो विकेट 

वेड और मैक्सवेल की बदौलत ऑस्ट्रेलिया की टीम अंतिम 9 ओवर में 99 रन जोड़े में सफल रही। भारत की ओर से ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 34 रन देकर दो विकेट चटकाए। भारत को खराब फील्डिंग का खामियाजा भी भुगतना पड़ा। उसने कम से कम दो कैच टपकाने के अ ल ा व ा एक स्टंप का मौका भी गंवाया जबकि कई बार मिसफील्ड की। नटराजन ने अंतिम ओवर की पहली गेंद पर मैक्सवेल को बोल्ड किया। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget