जदयू के छह विधायक भाजपा में शामिल

 पटना

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बिहार के मुख्यमंत्री व जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार को बड़ा झटका दिया है। भाजपा ने अरुणाचल प्रदेश में जदयू के सात में से छह विधायकों के अपने पाले में कर लिया है। वहां जेडीयू मुख्य विपक्ष के रूप में सदन में था और सरकार भाजपा की है। जदयू ने घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए अनुचित और गैर दोस्ताना बताया है। इसके पहले नागालैंड में भी जदयू के एकमात्र विधायक को वहां के मुख्यमंत्री ने तोड़कर अपनी पार्टी में शामिल करा लिया था।

बिहार में सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के मुख्यमंत्री व जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के लिए भाजपा की ओर से यह बुरी खबर है। भाजपा ने अरुणाचल प्रदेश में जदयू के सात में से छह विधायकों को अपनी पार्टी में शामिल करा लिया। भाजपा ने खुद को मजबूत करने के लिए एनडीए में सहयोगी पार्टी में भी तोड़-फोड़ से भी परहेज नहीं किया।

बिहार में भाजपा और जदयू गठबंधन की एनडीए सरकार है। साथ में हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा और विकासशील इनसान पार्टी भी गठबंधन में हैं। ऐसे में भाजपा के इस रवैये की बिहार में काफी चर्चा हो रही है। भाजपा ने अरुणाचल प्रदेश में जदयू के छह विधायकों को उस वक्त तोड़ा है, जब पटना में दो दिन बाद राष्ट्रीय कार्यसमिति और राष्ट्रीय परिषद की बैठक होनी है। अरुणाचल के विधायकों को पटना में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय परिषद की बैठक में शामिल होने आना था। बीजेपी ने यह काम पंचायत व नगर निकाय चुनाव के परिणाम आने के एक दिन पहले किया।

तलेम ताबोह को नेता चुना और भाजपा में हो गए शामिल

 जिन विधायकों को भाजपा ने तोड़ा है, उनमें तलेम ताबोह, हायेंगा मांगफी, जिके ताको, दोरजी वांग्डी खरमा, डोंगरू सिंयोंग्जू तथा कांगांग टाकू शामिल हैं। जेडीयू विधायकों ने तलेम ताबोह को अपना नेता चुन लिया और अरुणाचल प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष को पत्र लिखा कि वे पार्टी में शामिल होना चाहते हैं। इसके पहले इसी वर्ष 26 नवंबर को सिंयोग्जू खरमा और टाकू को पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। जेडीयू ने अरुणाचल प्रदेश में 2019 के विधानसभा चुनाव में 15 सीटों पर चुनाव लड़ा था, जिनमें सात पर उसे जीत हासिल हुई थी। भाजपा को 41 सीटें आयीं थीं। भाजपा के बाद जेडीयू ही अरुणाचल में सबसे बड़ी पार्टी थी। अब 60 सदस्यों की विधानसभा में बीजेपी के अब 48 सदस्य हो गए हैं। जबकि, जेडीयू एक पर सिमट गया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget