'स्लम क्वीन' करीमा पहुंची जेल

Kareema

मुंबई

कभी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर का मुंबई में दबदबा था। हसीना पारकर को लोग हसीना आपा के नाम से बुलाते थे, लेकिन समय के साथ हसीना पारकर की पकड़ मुंबई में ढीली पड़ती गई। इसी दौरान एक और नाम सामने आया, करीमा आपा का। करीमा मुजीब शेख को लोग करीमा आपा के नाम से बुलाते हैं। करीमा आपा रातों रात अवैध झोपड़े बना कर लोगों को बेचने का काम करती हैं। साथ ही इन पर हथियारों के भी खरीद-फरोख्त का आरोप है, लेकिन अब करीमा आपा को हफ्ता मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। करीमा आपा के साथ, उसके तीन साथियों को भी मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने दो पिस्तौल और 12 जिंदा कारतूस भी जब्त किए हैं।

मुंबई की एंटी-एक्सटॉर्शन सेल को जानकारी मिली कि 14 नवंबर को कांजुरमार्ग इलाके में एक आरोपी पिस्टल लेकर आने वाला है, जिसके बाद पुलिस की एक टीम ने जाल बिछाया और विनोद गायकवाड़ (38) नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया। तलाशी के दौरान पुलिस को इसके पास से 1 गन और 2 कारतूस मिले। विनोद पर हत्या के दो आरोप भी हैं।

विनोद से पूछताछ के बाद पुलिस को पता चला कि उसका एक अन्य साथी हाल ही में मुंबई के लिए यूपी से निकला है। आरोपी जैसे ही मुंबई पहुंचा, पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान पुलिस को उसके पास से भी एक हथियार और एक कारतूस मिला। दोनों ने पुलिस को बताया कि यह हथियार उन्हें करीमा आपा का दाहिना हाथ कहे जाने वाले मोहम्मद यूसुफ अब्दुल कयूब ने रखने के लिए दिया था। तदनुसार, पुलिस ने मोहम्मद यूसुफ अब्दुल कयूब (32) की तलाश शुरू कर दी। इसी दौरान पुलिस को पता चला कि वह कुर्ला के नल बाजार इलाके में है। इसके बाद पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया और उसके पास से भी 4 कारतूस जब्त किए। यूसुफ से पूछताछ के दौरान, करीमा आपा का नाम सामने आया। जैसे ही पुलिस को यूसुफ के मुंह से करीमा आपा के बारे में सूचना मिली, उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। इस महिला को एक नहीं, बल्कि दो दर्जन से अधिक अपराधों के लिए कई बार गिरफ्तार किया जा चुका था। इसमें दो हत्याएं, फिरौती, धमकी सहित और अन्य गंभीर अपराध शामिल हैं।

बताया जाता है कि, करीमा ने मुंबई जैसे शहर में, सैकड़ों अवैध झोपड़ियां बनाई और उन्हें बेच दिया। उसके खिलाफ अपराध के ग्राफ को देखते हुए। पंतनगर पुलिस ने उसे तड़ीपार भी घोषित किया है। लेकिन पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर वह वर्सोवा इलाके में रह रही थी, लेकिन बाद में सूचना मिलने पर करीमा को वर्सोवा क्षेत्र से पुलिस ने गिरफ्तार किया। गिरफ्तारी के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने उसे छह दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget