नवजात का यूं करें केयर

Baby

गंदे हाथों से बच्चे को ना छुएं
 

छोटे बच्चे को इंफेक्शन होने का खतरा ज्यादा होता है। ऐसे में उसे छूने से पहले हाथों को अच्छे से धोएं। इससे उसे बैक्टीरिया नहीं लगेंगे। 

मां का दूध जरूरी 

छह महीने तक के बच्चों को स्तनपान करवाना जरूरी होता है। असल में, मां का दूध बच्चे के लिए संपूर्ण आहार माना जाता है। ऐसे में उसे सभी जरूरी तत्व मिलने के साथ इम्यूनिटी बढऩे में मदद मिलती है। साथ ही तेज ठंड व इंफेक्शन से बचाव रहता है। 

बच्चे को लगने वाले टीकों की लिस्ट बनाएं 

संक्रमण से बचाएं रखने के लिए बच्चे को सभी टीके लगने बहुत जरूरी है। इससे बच्चे का बीमारियों से बचाव रहने के साथ बेहतर विकास होने में मदद मिलती है। ऐसे में आप इसे भूलें न। आप चाहें तो इसके लिए एक लिस्ट तैयार कर सकती हैं। 

कमरे के तापमान का रखें ध्यान 

कमरे के तापमान का खास ध्यान रखें। बच्चे को ऐसे कमरे में रखें जहां सामान्य या गर्म तापमान हो। इसके अलावा कमरे की खिड़कियों व दरवाजे को बंद रखें ताकि ठंडी हवा रूम में न आएं। 

मालिश करना भी जरूरी 

बच्चे की नियमित रूप से तेल मालिश करें। इसके लिए आप ऑलिव, नारियल, बादाम तेल इस्तेमाल कर सकती हैं। इससे बच्चे की मांसपेशियों व हड्डियों में मजबूती आने के साथ बेहतर विकास में मदद मिलेगी। 

नहलाते समय रखें ध्यान 

वैसे तो ठंड से बच्चे को बचाने के लिए उसे डेली नहलाने की जरूरत नहीं होती है। ऐसे में आप उसे 1-2 दिन के गैप में नहा सकते हैं। मगर इस बात का ध्यान रखें कि रोजाना उसका मुंह-हाथ धुलाकर कपड़े जरूर बदल लें। इसके अलावा बच्चे को नहलाने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें। साथ ही उसे गर्म कपड़े पहनाएं। उसे नहलाने के बाद हवा में ले जाने से बचें। नहीं तो बच्चे को ठंडी लग सकती है। 

कपड़े हो आरामदायक 

अक्सर महिलाएं बच्चे को ठंडी में बहुत से गर्म कपड़े पहना देती है। मगर ऐसा करना गलत है। असल में, बच्चे को आरामदायक और कमरे के तापमान के मुताबिक कपड़े पहनाने चाहिए। अगर कमरा ज्यादा गर्म है तो उसे कम कपड़े ही पहनाएं। 

बेबी प्रोडक्ट्स का कम करें इस्तेमाल 

बच्चे की स्किन सेंसिटिव होती है। ऐसे में बाजार से बच्चों के लिए बहुत से बेबी प्रोडक्ट्स मिलते हैं। मगर फिर भी सर्दियों में उसे ज्यादा बेबी साबुन, शैंम्पू और बॉडी वॉश लगाने से बचें। 

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget