गरफ्तारी के भय से बिजली टावर पर चढ़ा आरोपी

भदोही 

गोपीगंज क्षेत्र के कसिदहां गांव में बुधवार को गिरफ्तारी के भय से आरोपित व्यक्ति बिजली के टावर पर चढ़ गया। वह 11 हजार वोल्ट के खंभे के मध्य पर खड़ा हो गया। वह पुलिस पर फर्जी मुकदमा दर्ज किये जाने का आरोप लगा रहा था। वह कूदकर जान देने की धमकी दे रहा था। सूचना पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक केके सह ने न्याय का भरोसा दिलाते हुए किसी तरह से उसे नीचे उतारा। 

गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के कसिदहां गांव में युवती को जदा जलाने के आरोप में दो दिन पहले पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। इसी को लेकर आरोपित राम प्रसाद सुबह विद्युत टावर पर चढ़ गया। देखते ही देखते आस-पास के गांव के लोगों की भी भीड़ लग गई। गांव के लोग उसे उतारने का प्रयास करते रहे लेकिन उसने इंकार कर दिया। वह कहता रहा था कि केस में उसे फर्जी मुकदमे में फंसाया गया है। जब तक इसका निस्तारण नहीं हो जाता तब तक वह नीचे नहीं उतरेगा। प्रभारी निरीक्षक केके सिंह ने बताया कि आरोपित को नीचे उतारकर छोड़ दिया गया है। मामले की अभी जांच चल रही है। जब न्याय मिलने से भरोसा उठ गया तो पीड़ितों ने पानी की टंकी और विद्युत टावर को ही हथियार बनाना मुनासिब समझा। कसिदहां में टावर पर चढऩे का पहला वाकया नहीं है। इसके पहले भी जिले में कई घटनाएं हो चुकी हैं। तत्काल तो अधिकारियों की ओर से भरोसा दिला दिया जाता है लेकिन जैसे ही वह टावर से नीचे उतरता है कि मामला कानूनी-दांव पेंच में उलझ जाता है। होता वही है जो टंकी अथवा टावर पर चढऩे के पहले होता आया है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget