फिर उड़ान भर सकती है जेट एयरवेज

jet airways

मुंबई

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के कारोबारी मुरारी लाल जालान और लंदन की कलरॉक कैपिटल के गठजोड़ ने सोमवार को कहा कि जेट एयरवेज का परिचालन 2021 की गर्मियों में फिर शुरू हो सकता है। इस गठजोड़ ने जेट एयरवेज के पुनरोद्धार की बोली जीती है। अब गठजोड़ को राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) तथा अन्य नियामकीय मंजूरियों का इंतजार है। इसमें नागर विमानन मंत्रालय तथा नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से उड़ानों के लिए समय (स्लॉट) और द्विपक्षीय यातायात अधिकार की बहाली शामिल है। इसके अलावा गठजोड़ की योजना एयरलाइन का परिचालन फिर शुरू होने के बाद प्रतिबद्ध ढुलाई सेवा शुरू करने की है। ऋणदाताओं की समिति (सीओसी) अक्टूबर में ही गठजोड़ द्वारा जमा कराई गई पुनरोद्धार योजना को मंजूरी दे चुकी है। नकदी संकट की वजह से जेट एयरवेज का परिचालन पिछले साल 17 अप्रैल को बंद हो गया था। उसके बाद जून 2019 में उसे दिवाला प्रक्रिया के तहत भेज दिया गया। समाधान योजना के तहत जेट एयरवेज का इरादा भारत में अपने सभी पुराने घरेलू मार्गों पर परिचालन करने और अंतर्राष्ट्रीय परिचालन शुरू करने का है। जेट 2.0 कार्यक्रम का मकसद एयरलाइन के पुराने गौरान्वित इतिहास को वापस लाना है। इसके तहत नई प्रक्रियाओं और प्रणालियों के जरिए सभी मार्गों पर दक्षता और उत्पादकता बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। 

गठजोड़ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यदि सब कुछ योजनानुसार रहता है और एनसीएलटी तथा अन्य नियामकीय मंजूरियां समय पर मिल जाती हैं, तो 2021 की गर्मियों में जेट एयरवेज फिर उड़ान भर सकेगा। बयान में कहा गया है कि नई एयरलाइन शुरू करने के विकल्प पर भी विचार किया गया, लेकिन जेट एयरवेज की ताकत मसलन महत्तम उड़ान स्लॉट, ब्रांड मूल्य और प्रतिष्ठा को देखते हुए इसके पुनरोद्धार का फैसला किया गया है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget