घर से बाहर पार्टी करने पर मनाही

31 दिसंबर को लेकर पुलिस की तैयारियां पूरी   

Police

मुंबइ

नए साल के मद्देनजर मुंबई पुलिस ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। पूरे भारत से कई लोग मुंबई में 31 दिसंबर को लोग पार्टी करने आते थे, लेकिन इस बार हर साल जैसा माहौल नहीं होगा। लोगों को मुंबई में नाइट कर्फ्यू के चलते 11 बजे के बाद अपने अपने घरों में जाना पड़ेगा।

पुलिसकर्मियों की साप्ता‌िहक छुट्टी रद्द 

इस बार मुंबई में 31 दिसंबर के दिन धारा 144 लागू की गई है, जिसमें 5 से ज्यादा लोग एक जगह पर इकट्ठा नहीं रह सकते और ऐसा पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। डीसीपी एस चैतन्य ने बताया कि हमने पुलिस की साप्ताहिक छुट्टी रद्द कर दी है। पुलिस की मानें तो 11 बजे के बाद हर कोई अपने घर चला जाए। अगर वे ऐसा नहीं करेंगे तो उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। फोर व्हीलर कार में 4 लोग यात्रा कर सकते हैं। हर किसी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

40 हजार पुलिस जवान तैनात 

उस दिन 40 हजार से ज्यादा की पुलिस फोर्स मुंबई के सड़कों पर होगी, जिसमें ईव टीजिंग स्क्वाड, एंटी नारकोटिक्स सेल, सोशल सर्विस ब्रांच, एंटी टेरोरिस्ट सेल, बीडीडीएस की पांच टीम, क्यूआरटी की 5 टीम, एसआरपीएफ की 9 प्लाटून (हर प्लाटून में 35 लोग होते हैं), 600 होम गार्ड, स्ट्राइकिंग फोर्स की 5 टीम (हर टीम में 20 लोग होते हैं, आरसीपी की 2 टीम, 4 ड्रोन और 188 जगहों पर नाकाबंदी लगाई जाएगी, जहां पर ड्रंक एंड ड्राइव की जांच भी की जाएगी। 


31 दिसंबर के लिए गाइड लाइन

  • कोरोना को लेकर 31 दिसंबर को दिनभर कर्फ्यू न हो, लेकिन नए साल के स्वागत के लिए लोग घरों से बाहर नहीं निकले, घर पर ही नए साल का जश्न मनाएं। 
  • 31 दिसंबर को नागरिकों को यह सुनिश्चित करने के लिए विशेष ध्यान देना चाहिए कि समुद्र तटों, उद्यानों, सड़कों जैसे सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे तथा मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग पर विशेष ध्यान देना आवश्यक है। 
  • विशेष रूप से मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया, मरीन लाइंस, गिरगांव चौपाटी, जुहू चौपाटी और राज्य के अन्य बड़े शहरों में कई जगहों पर नागरिकों की भीड़ एकत्रित होती है, इसे देखते हुए कोराना के संक्रमण को रोकने के लिए विशेष सावधानी रखनी आवश्यक है। 
  • 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिक और दस वर्ष से कम आयु के बच्चों को सुरक्षा और स्वास्थ्य कारणों से घर से बाहर जाने से बचना चाहिए।
  • नए साल के स्वागत के अवसर पर किसी भी तरह से धार्मिक / सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जाना चाहिए और जुलूस नहीं निकाला जाना चाहिए।    
  • नए साल के पहले दिन अधिकांश नागरिक धार्मिक स्थानों पर जाते हैं। ऐसे मामलों में एक ही समय में भीड़ न करते हुए सामाजिक दूरी का ध्यान रखा जाए। इसके अलावा संबंधित को स्वास्थ्य और स्वच्छता के दृष्टिकोण से उचित एहतियाती उपाय करने चाहिए।
  • नए वर्ष पर आतिशबाजी का उपयोग नहीं किया जाए और ध्वनि प्रदूषण से संबंधित नियमों का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए।
  • कोविड -19 वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए राहत व पुनर्वास, स्वास्थ्य, पर्यावरण, चिकित्सा शिक्षा विभाग के साथ-साथ संबंधित महानगरपालिका, पुलिस, स्थानीय प्रशासन द्वारा निर्धारित नियमों का सख्ती से पालन किया जाना चाहिए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget