भारत के पहले नियोबैंक फिनइन ने अपनी शुरुआत की घोषणा की

suman sudhir

नई दिल्ली

बैंकिंग अनुभव में नया दृष्टिकोण लाते हुए भारत के पहले नियोबैंक फिनइन ने अखिल भारतीय स्तर पर अपनी शुरुआत की घोषणा की । फिनइन देश में कंज्यूमर-फेसिंग सेविंग्स-ड्रिवन नियोबैंक ला रहा है जो आज के वित्तीय परिदृश्य में वेल्थ मैनेजमेंट ऐप की विभिन्न अवधारणाओं को पेश करेगा। फिनइन ने एसबीएम इंडिया के साथ बैंकिंग पार्टनर के तौर पर पार्टनरशिप की है, ताकि बचत खाता जारी किया जा सके, जिसे दो मिनट से कम समय में खोला जा सकता है और स्मार्ट कार्ड मैनेजमेंट फीचर से लैस वीजा संचालित डेबिट कार्ड साथ में आता है। सुमन गंधम और सुधीर मारम ने 2019 में इसकी स्थापन की और बेंगलुरु के इस स्टार्टअप का उद्देश्य एक यूजर को स्मार्ट और सरल तरीके से मैनेज करने, बचाने और निवेश करने में सक्षम बनाने के लिए पारदर्शी, आनंददायक और परेशानी-मुक्त अनुभव प्रदान करना है। फिनइन के संस्थापक व सीईओ सुमन गंधम ने कहा, भारत सही मायनों में अंडरबैंक नहीं है, यह वास्तव में ओवरबैंक है, लेकिन बुनियादी ढांचे में हाइपर-पर्सनलाइजेशन का अभाव है। हमारे जैसा हाइपर-पर्सनलाइ़ज्ड नियोबैंकिंग प्लेटफ़ॉर्म टेक्नोलॉजी की मदद से गैप्स को दूर करने और प्राचीन बैंकिंग सेवाओं को सरल करके लोगों के पैसे के साथ बेहतर संबंध विकसित करने में मदद करता है। फिनइन एक वन-स्टॉप बैंकिंग सॉल्युशन है जो यूजर्स को एक ही स्थान पर अपने सभी बैंक खातों को लिंक करने और उन्हें एक साथ सहज बैंकिंग अनुभव बनाने में मदद करता है। स्टार्टअप ग्राहकों के खर्च का विश्लेषण करने के लिए एआई का उपयोग करता है, जिससे ऐसी रिपोर्टें बनती हैं जो उनके खर्च और बचत के व्यवहार पर गहराई से जानकारी प्रदान करती है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget