चीन पर कसेगा शिकंजा

mike pompeo

वॉशिंगटन 

अमेरिका ने चीन में उइगर मुसलमानों पर लगाई जा रही विभिन्न पाबंदियों को अल्पसंख्यक समुदाय का नरसंहार करार देते हुए इसकी विस्तृत जांच करने की बात कही है। अमेरिकी प्रशासन के एक  अधिकारी ने गुरुवार को यह बात कही। 

समाचार एजेंसी क्योडो की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने वैश्विक आपराधिक न्याय के एम्बेसडर मोर्सरे टैन को चीन में उइगर मुसलमानों पर हो रहे अत्याचारों की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। टैन सीमित समय में इसकी जांच कर जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। संयुक्त राष्ट्र के नियमों के मुताबिक किसी भी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की बड़ी संख्या में हत्या होना और उसकी जनसंख्या नियंत्रित करने को लेकर उठाए जा रहे कदमों को नरसंहार की श्रेणी में ही गिना जाएगा। चीन के शिनजियांग स्वायत्त क्षेत्र में अल्पसंख्यक वीगर मुसलमानों पर हो रहे अत्याचारों को लेकर अमेरिका लगातार बीजिंग पर मानवाधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाता आया है। चीन में वीगर मुसलमानों की बलपूर्वक नसबंदी करना, उन्हें हिरासत केन्द्रों में रखना और जबर्दस्ती मजदूरी करवाना जैसे अत्याचार हो रहे हैं, जिसके आधार पर अमेरिका ने चीन पर उइगर मुसलमानों के नरसंहार का आरोप लगाया है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget