अंगीठी का धुआं बना बहनों का काल

गोरखपुर

 बड़हलगंज थाना क्षेत्र के गांव मझवलिया में कमरे में अंगीठी पर कोयला जलाकर एक ही कमरे में तीन बहनें सो गईं। रात में अंगीठी के धुएं से कमरे का अक्‍सीजन खत्म हो गया। जिससे तीन में से दो बहनों की मौत हो गई। वहीं एक की हालत गंभीर है। उसे एक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। गांव में अवधेश प्रसाद की तीन पुत्रियां रविवार की रात एक कमरे में कोयले की अंगेठी जलाकर सो गयीं। कमरे में खिड़की व रोशनदान न होने से रात में आक्सीजन खत्म होने और अंगीठी के गैस के चलते कमरे में जहरीली गैस उत्पन्न हो गयी। इसके कारण दो बहनों की मौत हो गई। वहीं तीसरी का बड़हलगंज के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। पिता अवधेश ने बताया कि रविवार की रात में तीनों बेटियां भोजन कर कमरे में सो गयीं। दरवाजा तोड़कर अंदर जाने पर तीनों बहनें अचेत मिलीं। आनन-फानन उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने दो को मृत घोषित कर दिया। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget