भाजपा ने मांगा गृहमंत्री से इस्तीफा


मुंबई

भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत पाटिल ने मांग की है कि संभाजीनगर में एक युवती से दुर्व्यवहार करने वाले राकांपा यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष को तत्काल गिरफ्तार करने के बजाय उसे समर्थन देने वाले गृहमंत्री अनिल देशमुख को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। पाटिल ने कहा कि एनसीपी के युवा अध्यक्ष के खिलाफ बलात्कार जैसा मामला दर्ज होने के बावजूद वह खुलेआम घूम रहा है और प्रेस कांफ्रेंस में बैठने की हिम्मत कर रहा है। यह केवल गृह मंत्री के आशीर्वाद से ही संभव है।

उन्होंने कहा कि जिस वक्त बलात्कार का केस दाखिल होता है, उस वक्त पीड़ित पर कोई दवाब नहीं पड़े और सबूतों से छेड़छाड़ नहीं हो, ऐसे में आरोपी को तत्काल गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की जाती है। आरोपी के बाहर घूमने से पीड़ित पर दवाब बनाने का प्रयास किया जा रहा है। चूंकि आरोपी केवल एनसीपी कार्यकर्ता है, इसलिए गृह मंत्री ने खुद कानून को दरकिनार कर दिया। पाटिल ने कहा कि राज्य की महिलाओं को सुरक्षा देना गृहमंत्री का कर्तव्य है, अपराधियों को संरक्षण देना नहीं। शक्ति कानून लागू कर यदि गृह मंत्री आरोपी को बचाएंगे तो कानून पर अमल कैसा होगा? उन्होंने कहा कि हमारा सवाल है कि ऐसी स्थिति में राकांपा नेता सुप्रिया सुले और रूपाली काकणकर पीड़िता के साथ खड़ी रहेंगी या आरोपी राकांपा कार्यकर्ता के पक्ष में। गृहमंत्री को नैतिक जबाबदारी स्वीकार करते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए तथा मुख्यमंत्री को इस मामले की तरफ ध्यान देते हुए यह प्रकरण शक्ति कानून के अनुसार फॉस्ट ट्रैक कोर्ट में चलाकर पीड़िता को न्याय देना चाहिए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget