तीसरी नजर से स्टेशनों की सुरक्षा

मुंबई

रेलवे स्टेशनों और उसके आसपास के क्षेत्र में होने वाले अपराध पर अंकुश लगाने के साथ महिला यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पश्चिम रेलवे ने चर्चगेट से विरार तक के सभी स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरों की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है। मौजूद पुराने कैमरों को नए कैमरों के साथ बदल दिया जाएगा।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार पुराने कैमरों को बदलने के साथ लगभग 1,529 नए कैमरे लगाए जा रहे हैं। इस तरह से कुल 2729 कैमरों से निगरानी रखी जाएगी। महिला यात्रियों की सुरक्षा, महिलाओं के उत्पीड़न, छेड़छाड़, लूटपाट आदि को ध्यान में रखते हुए रेलवे द्वारा सुरक्षा के उपाय किए जा रहे हैं। महिला कोचों में सीसीटीवी लगाने के साथ स्टेशन पर सुरक्षा भी बढ़ाई जा रही है। सीसीटीवी रेलवे सीमाओं के भीतर किए गए किसी भी अपराध की सफल जांच में मदद करता है, लेकिन सीसीटीवी की कम संख्या और उनकी गुणवत्ता में कमी के कारण सीसीटीवी के मुद्दे पर हमेशा चर्चा होती रहती है। इसलिए रेलवे ने महिला यात्रियों के साथ-साथ आम यात्रियों की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है। पश्चिम रेलवे के चर्चगेट से विरार तक के स्टेशनों पर सीसीटीवी की संख्या बढ़ाई जा रही है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget