दीदी के विधायक ने मोदी को सराहा


कोलकाता 

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में सियासी हलचलें तेज होना लाजमी है। ऐसे में जहां सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन करने वाली भाजपा के बीच तल्खी नजर आ रही है। वहीं पार्टीके अंदर बागी तेवर अपनाने वालोंकी संख्याभी लगातार बढ़ रही है। इसमें टीएमसी के कई मंत्रीऔर विधायक शामिल हैं। 

इसी बीच राज्य की सियासी सरगर्मीको पार्टीके विधायक और आसनसोल नगर निगम के चेयरमैन जितेंद्र तिवारी ने अपने बयानोंसे बढ़ाने की कोशिश की है। उन्होंने ममता सरकार के खिलाफ बागी तेवर अपनाते हुए मंत्री फिरहाद हाकीम को चिट्ठी लिखी है। चिट्ठीमें उन्होंने कहा, ‘हमारे शहर (आसनसोल) को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्टके तहत केंद्र सरकार द्वारा चुना गया था। लेकिन राजनीतिक कारणोंसे राज्य सरकार के द्वारा हमें इसकी सुविधा का लाभ लेने से वंचित कर दिया गया।’ 

नाराज मंत्री राजीब बनर्जी को मनाने की कोशिश 

विधानसभा चुनाव में अब छह महीने से भी कम का समय बचा है। ऐसे में वरिष्ठ नेताओं में बढ़ती नाराजगी और बागी रुख से चिंतित टीएमसी नेतृत्वने ममता सरकार में मंत्री राजीब बनर्जीको मनाने की कोशिश की। बातचीत के जरिए पार्टीसे नाराज चल रहे बनर्जीके मतभेदोंको दूर करने की कोशिश की गई। 

कई नेता ममता पर निशाना साध रहे हैं 

वहीं पिछले महीने कैबिनेट से इस्तीफा देने वाले नेता शुभेंदु अधिकारी की करीबी को पार्टीसे बाहर निकाल दिया गया है। 

टीएमसी के कई नेता ममता बनर्जीपर लगातार निशाना साध रहे हैं। इसी क्रम में पूर्वी मिदनापुर जिले से नेता कनिष्का पांडा के लगातार पार्टीविरोधी टिप्पणी करने के बाद उन्हें रविवार को पार्टीसे निलंबित कर दिया गया है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget