संपत्ति में हिस्साना देने पर हैवान बनें बेटे

मां-बाप को उतारा मौत के घाट आरोपी सलाखों के पीछे

 बदायूं 

यहां के उझानी कोतवाली क्षेत्रके संजरपुर गांवमें 15 दिसंबर को बुजुर्ग दंपति के जले हुए शवमिले थे। दोनों दंपति अकेले ही घर में रहते थे, जबकि उनके बेटे अन्य शहरों में रहकर नौकरी करते थे। इस मामले में पुलिस ने एक बड़ाखुलासा किया है। मां-बाप के हत्या के आरोप में पुलिस ने उनके ही दोनों बेटों को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि मृत कों के दोनों बेटों ने ही मां-बाप की हत्या की है। संपत्ति में हिस्सा नहीं मिलने से दोनो बेटे मां-बाप से नाराज चल रहे थे, जिस के चलते दोनों बेटों ने मां-बाप को मौतके घाट उतार दिया। पुलिस का दावा है कि दोनों बेटे ने हत्याकी बातकुबूल भी की है। बदायूं में उझानी कोतवाली क्षेत्रके संजरपुर गांवमें रहने वाले दंपत्ति राजेंद्र और राजवती का शव उनके कमरे में जली हुई अवस्था में 15 दिसंबर को मिला था। घटना के बाद दिल्ली में नौकरी करने वाले मृतक के पुत्रने हत्या की आशंका भी जाहिर की थी। वहीं पुलिस भी घटना को संदिग्ध मानकर चल रही थी। आज पुलिस ने पूरी घटना का खुलासा कर दिया है और मृतक के दो पुत्रोंको ही मामले में गिरफ्तार करके जेल भेजा है। इस घटना को दंपत्ति के दोनों पुत्रों ने ही अंजाम दिया था। दोनों लड़कों की पहचान विक्रम और सुमित के रूप में हुई है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget